दिल्ली के कैंट शमशान घाट में 9 साल की मासूम बच्ची की रेप के बाद हत्या, माता पिता के अनुसार पुजारी और अन्य तीन लोगों ने किया कृत्य

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

नयी दिल्ली, दिल्ली के कैंट श्मशान घाट में 9 साल की मासूम बच्ची की रेप के बाद हत्या मामले पर उबाल जारी है। घटना के विरोध में स्थानीय लोग धरना दे रहे हैं। वहीं आज सुबह कांग्रेस नेता पीड़ित परिवार से मिलने के लिए पहुंचे। उन्होंने गाड़ी के अंदर बिठाकर बच्ची के माता-पिता से बात की। वहीं पीड़िता की मां का कहना है कि मुझे न्याय चाहिए। मैं चाहती हूं कि दरिंदों को फांसी की सजा दी जाए। पिता का कहना है कि आरोपियों को सजा मिलने तक उनका धरना जारी रहेगा।

पुलिस ने इस मामले में अबतक पुजारी सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया है। बुधवार को ही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पीड़ित परिवार से मिलने के लिए पहुंचेंगे। उन्होंने घटना को बेहद शर्मनाक करार दिया है। पुलिस के रवैये पर स्थानीय लोगों के साथ ही परिवार से मिलने पहुंच रहे नेता सवाल उठा रहे हैं। पुलिस का कहना है कि वह मामले की निष्पक्ष जांच सुनिश्चित करेगी।

पीड़िता का परिवार मूल रूप से राजस्थान के भरतपुर का रहने वाला है। रोजगार की तलाश में परिवार दिल्ली आया था। यहां कूड़ा बीनकर घर का गुजारा होता था। बच्ची के पिता का कहना है कि बेटी कई बार श्मशान घाट में पानी लेने के लिए जाती थी। इसी वजह से उन्हें कभी नहीं लगा था कि ऐसा कुछ हो जाएगा।

बच्ची की मां ने आरोप लगाया है कि आरोपी ने उन्हें श्मशान घाट के कमरे में बंद कर दिया था और उनकी मर्जी के बिना बेटी के शव को जला दिया गया। मां ने कहा, ‘उन्होंने मुझे पैसे देने की कोशिश की। मुझे घर लौटने के लिए कहा और ये भी कहा कि किसी को मत बताना कि क्या हुआ था।’ वहीं बच्ची के पिता का कहना है कि जब तक आरोपियों को फांसी की सजा नहीं मिल जाती हमारा धरना जारी रहेगा। उन्होंने कहा, ‘पुजारी और अन्य तीन लोगों ने मेरी बेटी के साथ रेप किया और उसकी हत्या कर दी। अपने जघन्य अपराध को छिपाने के लिए उसके शव का अंतिम संस्कार कर दिया। हम चाहते हैं कि उन्होंने हमारी बेटी के साथ जो किया उसके लिए उन्हें मौत की सजा दी जाए। जब तक हमारी अपनी बेटी को इंसाफ नहीं मिलेगा तब तक हमारा धरना जारी रहेगा।’

बच्ची की मां ने पुलिस को बताया कि रविवार शाम करीब साढ़े पांच बजे बच्ची श्मशान घाट में लगे वाटर कूलर से ठंडा पानी लेने की बात कहकर घर से गई थी। जिसके बाद वह लौट कर नहीं आई। करीब 6.30 श्मशान घाट के पंड़ित राधेश्याम ने उसे श्मशान घाट पर बुलाया। बच्ची के परिजन वहां पहुंचे, तो उन्हें बताया गया कि उनकी बच्ची की करंट लगाने से मौत हो गई है। जबकि बच्ची के होठ नीले पड़े हुए थे और उसकी कलाईयों पर जलने के निशान थे।

बच्ची को देखने के बाद उसकी मां ने पुलिस को फोन करने की कोशिश की, लेकिन पुजारी ने पोस्टमार्टम में अंगों की चोरी होने की बात कहकर परिजनों को डराया और बच्ची का अंतिम संस्कार करवा दिया। परिजनों के घर पहुंचने पर यह बात इलाके में फैल गई और लोगों ने श्मशान घाट के बाहर जमा होना शुरू कर दिया।

चार लोगों को मौत की सजा देने और फास्ट-ट्रैक कोर्ट के जरिए जल्द से जल्द न्याय की मांग करते हुए, लड़की के माता-पिता और स्थानीय निवासी, राजनेता और सामाजिक कार्यकर्ताओं सहित लगभग 200 लोग श्मशान घाट के पास पंखा रोड पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। लड़की की मां ने यह भी आरोप लगाया है कि उनके पति को एक कमरे में बंद कर दिया गया और दिल्ली कैंट पुलिस स्टेशन में एक व्यक्ति ने उनके साथ मारपीट की।

Related Posts

Header

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X