कृषि कानून की वापसी के बाद मोदी के लिए कितना बदला पंजाब, बीजेपी की रैली में होगा साफ

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

फिरोजपुर, नरेंद्र मोदी आज पंजाब के फिरोजपुर का दौरा करेंगे और इस दौरान राज्य में 42,750 करोड़ रुपए की विभिन्न विकास परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे. पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले पीएम मोदी का यह दौरा काफी अहम है।

वे राज्य के लिए कुछ महत्वपूर्ण घोषणाएं भी कर सकते हैं. केंद्र सरकार द्वारा कृषि कानूनों को वापस लिए जाने के बाद प्रधानमंत्री का पंजाब में यह पहला दौरा होगा. दिल्ली में कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन में ज्यादातर किसान पंजाब से ही थे।

प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) ने एक बयान में बताया कि पीएम मोदी दिल्ली-अमृतसर-कटरा एक्सप्रेस-वे, अमृतसर-ऊना खंड को फोर लेन में बदलने, मुकेरियां-तलवाड़ा नई बड़ी रेलवे लाइन, फिरोजपुर में पीजीआई सैटेलाइट केंद्र और कपूरथला व होशियारपुर में दो नए मेडिकल कॉलेजों की स्थापना संबंधी परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगे।

10वीं तक के स्कूल बंद, उत्तर प्रदेश में ओमिक्रोन के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जारी किए आवश्यक दिशा निर्देश

पीएमओ ने कहा कि देश भर में कनेक्टिविटी को बेहतर करने के प्रधानमंत्री के प्रयासों के तहत पंजाब में भी कई राष्ट्रीय राजमार्गों के विकास की पहल की गई है. इसके परिणाम स्वरूप राज्य में साल 2014 में राष्ट्रीय राजमार्गों की लंबाई जहां 1,700 किलोमीटर थी, वहीं साल 2021 में यह बढ़कर 4,100 किलोमीटर हो गई है. पीएमओ ने कहा कि इन्हीं प्रयासों को जारी रखने के क्रम में प्रधानमंत्री पंजाब में दो मुख्य सड़क कॉरिडोर की आधारशिला रखेंगे।

“घर के इकलौते हैंडसम अमीर लड़के को तलाश है एक सुंदर सुशील लड़की की” होर्डिंग लगा कर दुल्हन तलाश रहा है युवक

करीब 669 किलोमीटर लंबे दिल्ली-अमृतसर-कटरा एक्सप्रेस-वे को 39,500 करोड़ रुपए की लागत से विकसित किया जाएगा. इस सड़क के बन जाने से दिल्ली से अमृतसर और अमृतसर से कटरा तक के सफर को आधे समय में तय किया जा सकेगा. पीएमओ के मुताबिक, ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे सिख धार्मिक स्थलों सुल्तानपुर लोढी़, गोइंदवाल साहिब, खडूर साहिब, तरनतारन और कटरा स्थित हिन्दुओं की पवित्र धर्मस्थली वैष्णो देवी को जोड़ेगा।

 

यह एक्सप्रेस-वे हरियाणा, चंडीगढ़, पंजाब और जम्मू-कश्मीर के प्रमुख औद्योगिक शहरों… अम्बाला, चंडीगढ़, मोहाली, संगरूर, पटियाला, लुधियाना, जालंधर, कपूरथला, कठुआ और सांबा को भी जोड़ेगा. करीब 1700 करोड़ रुपए की लागत से अमृतसर-ऊना खंड को फोरलेन बनाया जाएगा. कुल 77 किलोमीटर लंबा यह खंड उत्तरी पंजाब और हिमाचल प्रदेश के बीच लंबवत विस्तार में फैले बड़े अमृतसर से भोटा कॉरिडोर का हिस्सा है।

 

प्रधानमंत्री 410 करोड़ रुपए से अधिक की लागत से मुकेरियां और तलवाड़ा के बीच बनने वाली लगभग 27 किलोमीटर लंबी एक नई ब्रॉड गेज रेलवे लाइन की आधारशिला रखेंगे. यह रेल लाइन नांगल बांध-दौलतपुर चौक रेलवे खंड का विस्तार होगी. पीएमओ ने कहा, ”इससे इस इलाके में सभी मौसम में आवागमन लायक परिवहन का साधन उपलब्ध होगा. इस परियोजना का सामरिक महत्व भी है क्योंकि यह मुकेरियां में मौजूदा जालंधर-जम्मू रेलवे लाइन से जुड़कर जम्मू और कश्मीर के लिए एक वैकल्पिक मार्ग के रूप में काम करेगी।

हो सकती है बारिश, गिर सकती है बर्फ मौसम विभाग ने लगाया उत्तर पश्चिम क्षेत्रों के मौसम का अनुमान

पीएमओ के मुताबिक, यह परियोजना पंजाब के होशियारपुर और हिमाचल प्रदेश के ऊना के लोगों के लिए विशेष रूप से फायदेमंद साबित होगी. पीएमओ ने कहा, ”इससे इस इलाके में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और हिल-स्टेशनों के साथ-साथ धार्मिक महत्व के स्थानों के लिए आसान संपर्क सुविधा भी उपलब्ध होगी।

 

इसके अलावा फिरोजपुर में 490 करोड़ रुपए से अधिक की लागत से 100 बिस्तरों वाला पीजीआई सैटेलाइट केंद्र बनाया जाएगा, जबकि कपूरथला और होशियारपुर में लगभग 325 करोड़ रुपए की लागत से लगभग 100 सीटों की क्षमता वाले दो मेडिकल कॉलेज विकसित किए जाएंगे. इन कॉलेजों को केंद्र प्रायोजित योजना ‘जिला/रेफरल अस्पतालों से जुड़े नए मेडिकल कॉलेजों की स्थापना’ के तीसरे चरण में मंजूरी दी गई है।

दिल्ली और पंजाब की तरह उत्तर प्रदेश मे भी लागू हो सकता हैं वीकेंड कर्फ्यू

Related Posts

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X