विधानसभा चुनाव सिर्फ समाजवादी पार्टी की लड़ाई नहीं है। यह पूरे देश की लड़ाई है : अखिलेश यादव

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

लखनऊ , समाजवादी पार्टी का कुनबा लगातार बढ़ रहा है सपा में कांग्रेस,बसपा सहित कई छोटे दलो के नेता समाजवादी पार्टी से गठबंधन कर समाजवादी पार्टी में शामिल हो रहे है। उत्तर प्रदेश में कांग्रेस का जनाधार दिख नही रहा है वही बसपा भी सत्ता के लिये छटपटा रही है। 2022 में बीजेपी का सीधा मुकाबला समाजवादी पार्टी से होगा। आने वाले दिनो बीजेपी सहित कई पार्टियो के विधायक सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष के संपर्क में है।उत्तर प्रदेश में विधासभा चुनाव से पहले राजनीतिक गतिविधियां तेज हो गई है। ऐसे में दलीय आस्थाएं भी बदल रही हैं। इसी क्रम में शुक्रवार को कई दलों और नेताओं ने समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की

बुंदेलखंड के कांग्रेस प्रभारी व पूर्व विधायक गयादीन अनुरागी ने सपा का दामन थाम लिया है। इसके अलावा पूर्व विधायक उरई विनोद चतुर्वेदी ने भी अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ सपा में शामिल हुए। कांग्रेस के दिग्गज नेता जालौन के दो बार विधायक पूर्वजों से कांग्रेसी रहे विनोद चतुर्वेदी ने पार्टी छोड़कर अखिलेश यादव की उपस्थिति में पार्टी से लखनऊ कार्यालय पर सपा का दामन थाम लिया है।बुंदेलखंड के कांग्रेस प्रभारी, पूर्व विधायक गयादीन अनुरागी भी अपने समर्थकों के साथ समाजवादी पार्टी में हुए शामिल। किन्नर महासभा, गोंडवाना गणतंत्र पार्टी और जन परिवर्तन दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी धनगर ने शुक्रवार को समाजवादी पार्टी को समर्थन देने का ऐलान किया

 

छत्तीसगढ़ की गोंडवाना गणतंत्र पार्टी का प्रभाव उत्तर प्रदेश के सोनभद्र आदि इलाकों में रहने वाले आदिवासी समाज पर है। इसके अलावा कई पूर्व विधायक सहित कुछ अन्य लोग भी शुक्रवार को अखिलेश यादव के समक्ष समाजवादी पार्टी में शामिल हुए। महोबा से पूर्व प्रदेश महासचिव मनोज तिवारी, पूर्व विधायक उरई विनोद चतुर्वेदी और सहारनपुर से कई पार्षदों ने बड़ी संख्या में अपने समर्थकों के साथ समाजवादी पार्टी में शामिल हुए। इनके अलावा सहारनपुर से प्रदीप वर्मा ‘गुजर’ (विमुक्त जाति जागरण समिति), बुंदेलखंड के कांग्रेस प्रभारी व पूर्व विधायक गयादीन अनुरागी और जिला अध्यक्ष, पिछड़ा वर्ग मोर्चा, भाजपा हरदोई अरुण कुमार मौर्य और बलरामपुर से पूर्व सांसद रिजवान जहीर और उनकी बेटी जेबा रिजवान ने समर्थकों के साथ समाजवादी पार्टी में शामिल हुए

 

अखिलेश यादव ने कहा कि यूपी में आगमी विधानसभा चुनाव सिर्फ समाजवादी पार्टी की लड़ाई नहीं है। यह पूरे देश की लड़ाई है। यह देश और संविधान बचाने की लड़ाई है। जिस रास्ते पर भारतीय जनता पार्टी चल रही है उसे न किसान का भला है और न व्यापारी और नौजवानों का। उन्होंने कहा कि जितना छूठ भाजपा बोलती है उतना कोई नहीं बोल सकता है। सभी को पता है कि देश की जनता महंगाई और बेरोजगारी से जूझ रही है, लेकिन भाजपा को इस बात की जानकारी ही नहीं है। अखिलेश यादव ने कहा कि यूपी में आगमी विधानसभा चुनाव सिर्फ समाजवादी पार्टी की लड़ाई नहीं है। यह पूरे देश की लड़ाई है। यह देश और संविधान बचाने की लड़ाई है। जिस रास्ते पर भारतीय जनता पार्टी चल रही है उसे न किसान का भला है और न व्यापारी और नौजवानों का

उन्होंने कहा कि जितना छूठ भाजपा बोलती है उतना कोई नहीं बोल सकता है। सभी को पता है कि देश की जनता महंगाई और बेरोजगारी से जूझ रही है, लेकिन भाजपा को इस बात की जानकारी ही नहीं है। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि जहां मुख्यमंत्री जाते हैं वहां हत्या की वारदात हो जाती है। उन्होंने मनीष गुप्ता हत्याकांड पर कहा कि गोरखपुर में जैसी घटना हुई वैसा कभी नहीं हुआ। अमेरिका में ऐसी घटना हुई थी तो लोग वहां की सरकार के खिलाफ खड़े हो गए। अब तो गोरखपुर की घटना में मारे गए व्यापारी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ गई है। कैसे छिपाएगी भाजपा सरकार कि उसकी पीट-पीटकर हत्या नहीं हुई है। जो भाषा भाजपा की है वही अधिकारियों की है। सरकार के दबाव में अधिकारी झूठ बोल रहे हैं

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि सबस ज्यादा फेक एनकाउंटर और पुलिस हिरासत में मौतें उत्तर प्रदेश में हुई हैं। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोद ने सबसे नोटिसें यूपी सरकार को भेजी हैं और मुख्यमंत्री करते हैं जीरो टॉलरेंस है। इससे अच्छी कानून-व्यवस्था नहीं हो सकती है। उन्होंने कहा कि आज हर वर्ग और जाति के लोग भाजपा सरकार को हटाना चाहते हैं। क्योंकि इन्होंने छूठ और धोखे के अलावा कुछ नहीं दिया ऐस तमाम उद्घाटन और शिलान्यास धोखा है।आज समाजवादी पार्टी और जनता भारतीय जनता पार्टी को हराने के लिए तैयार है।इससे पहले अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा कि मनीष गुप्ता हत्याकांड में पुलिसवालों की गिरफ्तारी न होना ये दर्शाता है कि वो फरार नहीं हुए हैं उन्हें फरार कराया गया है। दरअसल कोई आरोपियों को नहीं बल्कि खुद को बचा रहा है क्योंकि इसके तार श्वसूली-तंत्रश् से जुड़े होने की पूरी आशंका है। जीरो टालरेंस भी भाजपाई जुमला है।

Related Posts

Header

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X