बेलारूस की वेनेसा ने कुश्ती में वर्ल्ड नंबर-1 भारत की विनेश फोगाट को क्वार्टर फाइनल में हराया

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

चीबा, भारतीय पहलवान विनेश फोगाट (53 किलो) ओलंपिक खेलों के क्वार्टर फाइनल मुकाबले में बेलारूस की वेनेसा कालाजिंस्काया से हारी .वेनेसा कालाजिंस्काया यूरोपीय चैंपियन हैं.

भारत की दिग्गज रेसलर और वर्ल्ड नंबर-1 विनेश फोगाट को 53 किलोग्राम वेट कैटेगरी के मैच में वेनेसा कालाजिंस्काया ने 9-3 से हराया.

हालांकि अभी फोगाट के ब्रॉन्ज मेडल जीतने की उम्मीद बाकी है. इसके लिए वेनेसा को फाइनल में पहुंचना होगा. उसके बाद रेपचेज राउंड के जरिए विनेश के पास मौका होगा.

इससे पहले भारत की पदक की प्रबल दावेदार विनेश फोगाट गुरुवार को यहां महिला 53 किग्रा वर्ग के पहले दौर में रियो ओलंपिक की ब्रांज मेडल विजेता और विश्व चैंपियनशिप की छह बार की पदक विजेता स्वीडन की सोफिया मेगडालेना मैटसन को हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने में सफल रही थीं.
विनेश ने डिफेंस को आक्रमण में बदला और शानदार खेल का प्रदर्शन किया.

भारत की 26 साल की पहलवान ने स्वीडन की खिलाड़ी को 7-1 से हराया. विनेश ने 2019 विश्व चैंपियनशिप में भी मैटसन को हराया था.

मैटसन ने जब भी विनेश के दायें पैर पर हमला किया जो भारतीय पहलवान ने पलटवार करते हुए अंक जुटाए.

भारतीय खिलाड़ी ने पूरे मुकाबले के दौरान जज्बा बनाए रखा और विरोधी पहलवान को चित्त करने का मौका भी बनाया लेकिन स्वीडन की खिलाड़ी इससे बचने में सफल रही.

विनेश ने 2019 विश्व चैंपियनशिप के अपने पहले दौर के मुकाबले में मैटसन को हराया था. भारतीय पहलवान ने विश्व चैंपियनशिप में ब्रांज मेडल के साथ तोक्यो ओलंपिक का कोटा हासिल किया था.

हालांकि युवा अंशु मलिक 57 किग्रा वर्ग में रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता रूस की वालेरा कोबलोवा के खिलाफ रेपेचेज मुकाबले में 1-5 की हार के साथ पदक की दौड़ से बाहर हो गई.

अंशु हालांकि अपनी मजबूत प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ लगातार हमले करती रही और एक समय बढ़त पर थी लेकिन रूस की पहलवान ने दो अंक के साथ बढ़त बनाई और फिर जीत दर्ज करने में सफल रही.

उन्नीस साल की अंशु अपने पहले दौर में यूरोपीय चैंपियन इरिना कुराचिकिना से हार गई थी और बेलारूस की खिलाड़ी के फाइनल में जगह बनाने के बाद उन्हें रेपेचेज में हिस्सा लेने का मौका मिला.

आज भारत के पुरुष पहलवान रवि दहिया (57 किग्रा) और दीपक पूनिया (86 किग्रा) क्रमश: स्वर्ण और ब्रांज मेडल के लिए चुनौती पेश करेंगे.

 

Related Posts

Header

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X