लखनऊ में बेखौफ बदमाशों ने दिन दहाड़े ठेकेदार की गोली मारकर की हत्या, डीवीआर ले गए साथ

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ अपराधियों की शिकंजे में लाने के लिए दिन रात एक कर रही तो वहीं दूसरी ओर अपराधियों के हौसले बुलंद होते दिखाई दे रहे है। जिसकी वजह से यूपी सरकार की नीतियां, कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े हो रहे है।

इतना ही नहीं सरकार के साथ-साथ उत्तर प्रदेश की पुलिस पर भी सवाल खड़े होते दिखाई दे रहे है क्योंकि जिस प्रकार बदमाश दिनदहाड़े वारदातों को अंजाम दे रहे है, उससे यहीं समझ आ रहा है कि अपराधियों को किसी बात का भय नहीं है। पुलिस आयुक्त डीके ठाकुर ने बताया कि रेलवे ठेकेदार वीरेन्द्र ठाकुर (42) की उनके नीलमथा स्थित आवास पर गोली मार कर हत्या कर दी गयी।

पत्नी और बच्चों को कमरे में किया बंद
राज्य में पहले भी दिनदाहड़े घर में घुसकर हत्या के मामले सामने आए है। इसी कड़ी में राजधानी में शनिवार को कैंट इलाके में बदमाशों ने दिनदहाड़े एक रेलवे ठेकेदार के घर में घुसकर गोली मारकर हत्या कर दी। शहर के कैंट इलाके में दिनदहाड़े इस वारदात से पूरे इलाके में हड़कंप मचा हुआ है। ऐसा बताया जा रहा है कि मृतक ठेकेदार दिव्यांग था। जानकारी के अनुसार बिहार के पश्चिम चंपारण जिले के मूल निवासी वीरेन्द्र पिछले करीब 10-12 सालों से यहां रेलवे ठेकेदार के तौर पर कार्यरत थे। शनिवार की दोपहर करीब साढ़े 12 बजे तीन हथियारबंद बदमाशों ने उनके कमरे को खुलवाया और ताबड़तोड़ गोलियों की बौछार कर दी। उससे पहले पत्नी और बच्चे को एक कमरे में बंद कर दिया था। गोलियां लगने के बाद ठेकेदार की मौके पर ही मौत हो गई।

साइबर सेल ने किया पर्दाफ़ाश, ऑनलाइन ब्रांडेड कपड़े बेचने के नाम व्यापारियों से ठगी करने वाले गिरोह के सदस्यों को किया गिरफ्तार

घटना के बाद से तीनों गार्ड हुए फरार
मृतक ठेकेदार के प्राइवेट सुरक्षाकर्मियों की भूमिका संदिग्ध पाई गई है क्योंकि घटना के बाद से तीनों गार्ड फरार हैं। बता दें कि मृतक ठेकेदार ने दो विवाह किए थे। वहीं दूसरी ओर मृतक की दूसरी पत्नी ने पहली पत्नी पर आरोप लगाते हुए कहा कि पहली पत्नी ने ही वीरेंद्र को मारवाया है। शादी के बाद भाग गई थी और रोज- रोज कॉल करके झगड़ा करती थी और बोलती थी कि मरवा देंगे। प्रभारी निरीक्षक कैंट ने बताया कि वीरेंद्र कुमार ठाकुर (42) दिव्यांग है। उसकी दो पत्नियां हैं। जिसमें से एक घर छोड़कर जा चुकी है। वह अपनी दूसरी पत्नी व दो बच्चों के साथ कैंट स्थित घर में था तभी आए बदमाशों ने उसकी पत्नी व बच्चों को कमरे में बंद किया और उसे गोली मार दी। सूचना के बाद पहुंची पुलिस तफ्तीश में जुट गई है और जल्द ही हमलावरों को गिरफ्तार करेगी।

बड़ा बैंक घोटाला : दो भाइयों ने मिलकर 17 बैंकों के समूह को 34 हजार करोड़ से ज्यादा का लगाया चूना

पारिवारिक एंगल को देखकर भी होगी जांच
कमीश्नर डीके ठाकुर ने बताया कि दोपहर करीब साढ़े 12 बजे बदमाशों ने दरवाजा खुलवाकर दूसरी पत्नी और तीन बच्चों को दूसरे कमरे में बंद करके गोली मारी और चले गए। उन्होंने आगे कहा कि ठेकेदार ने प्राइवेट सुरक्षा के लिए तीन गार्ड रखे थे, गेट उन्होंने ही खोला था। वारदात के बाद से गार्ड फरार है। आगे कहते है कि इनके ऊपर साल 2019 में रेलवे स्टेशन पर हमला हुआ था। साल 2021 में उन्होंने दूसरी शादी की और तीनों बच्चे पहली पत्नी से ही है। पारिवारिक विवाद के एंगल विवाद को देखकर भी पुलिस जांच कर रही है।

Related Posts

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X