डॉक्टर फूल कली पूनम द्वारा रचित चार ग़ज़ल संग्रह पता ज़िंदगी का, रेत का समंदर, बेख़बर वक़्त, बेचैन चांँदनी, का हुआ विमोचन

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

अमेठी, डॉक्टर फूल कली पूनम द्वारा रचित चार ग़ज़ल संग्रह पता ज़िंदगी का, रेत का समंदर, बेख़बर वक़्त, बेचैन चांँदनी, का विमोचन समारोह राजकीय बालिका इंटर कॉलेज अमेठी के प्रांगण में किया गया जिस के मुख्य अतिथि श्री राजेश अग्रहरि जिला पंचायत अध्यक्ष अमेठी रहे।

मुख्य अतिथि ने अपने उद्बोधन में कहा कि डॉ फूलकली पूनम की ग़ज़लें कालजई हैं सदियों में कभी-कभी ही ऐसे साहित्यकार का प्रादुर्भाव होता है। विशिष्ट अतिथि के रूप में श्री जयकरन लाल वर्मा जिला विद्यालय निरीक्षक ने कहा कि डॉ. फूलकली ने शिक्षा के साथही साथ साहित्य में नए कीर्तिमान स्थापित करके माध्यमिक शिक्षा विभाग को गौरवान्वित किया है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे वरिष्ठ साहित्यकार श्री आद्या प्रसाद सिंह प्रदीप ने कहा कि चारों ग़ज़ल संग्रह की ग़ज़लें हृदयस्पर्शी और ग़ज़ल साहित्य के समस्त मानकों को धारित करती हैं, जो पाठकों को असीम आनंद देने वाली साथ ही समाज को अच्छी दिशा देने वाली हैं।प्रेरणा स्रोत के रूप में प्रमुखतम व्यक्तित्व श्रीमती धनपती गुप्ता ने कहा कि मेरी पुत्री ने मेरी कोख में जन्म लेकर मेरे मांँ होने को जो गौरव प्रदान किया है मैं दुआ माँगती हूंँ कि ऐसी औलाद ईश्वर सभी को दें।

शायरा डॉ. फूलकली पूनम ने कहा कि अपने विचारों को भाव में सम्मिश्रित कर काग़ज़ पर उतारना और पाठकों की पसंद बनना अनिर्वचनीय सुख एवं संतोष प्रदान करता है। कार्यक्रम में रूबी सिंह रुचिका सिंह ममता कुमारी रिचा देवी राजेंद्र प्रियांशु मिश्रा और शहर के सैकड़ों गणमान्य जन तथा हजारों छात्राएंँ मौजूद रहीं। सांस्कृतिक कार्यक्रमों ने समारोह को भव्यता प्रदान की। कार्यक्रम का कुशल संचालन डॉ. अब्दुल हमीद ने किया।

Related Posts

Header

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X