चंदे के मामले में बीजेपी सब पर भारी, एडीआर के अनुसार भाजपा को सबसे ज्यादा 611.692 करोड़ रुपये मिले

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

नई दिल्ली, भाजपा और कांग्रेस सहित 19 राजनीतिक दलों ने 2021 में पांच राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में विधानसभा चुनावों के दौरान 1,100 करोड़ रुपये से अधिक प्राप्त किए और 500 करोड़ रुपये से अधिक खर्च किए।

इनमें से एक बड़ा हिस्सा स्टार प्रचारकों के लिए और यात्रा खर्च और विज्ञापनों में गया।

असम, केरल, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और पुडुचेरी में विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा को सबसे ज्यादा 611.692 करोड़ रुपये मिले और उसने 252 करोड़ रुपये खर्च किए। एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) और नेशनल इलेक्शन वॉच की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि कुल मिलाकर, पार्टी ने मीडिया विज्ञापन सहित प्रचार पर 85.26 करोड़ रुपये और स्टार प्रचारकों और अन्य नेताओं के यात्रा खर्च पर 61.73 करोड़ रुपये खर्च किए।

कांग्रेस ने 193.77 करोड़ रुपये की दूसरी सबसे बड़ी राशि प्राप्त की और 85.625 करोड़ रुपये खर्च किए। इसमें प्रचार पर 31.451 करोड़ रुपये और यात्रा खर्च के लिए 20.40 करोड़ रुपये शामिल हैं। द्रमुक ने 134 करोड़ रुपये की तीसरी सबसे बड़ी राशि प्राप्त की और कुल 114.14 करोड़ रुपये खर्च किए। पार्टी ने प्रचार पर 52.144 करोड़ रुपये और अपने स्टार प्रचारकों और अन्य नेताओं के यात्रा खर्च के लिए 2.414 करोड़ रुपये खर्च किए। रिपोर्ट में कहा गया है कि चुनाव के दौरान माकपा को कुल 79.244 करोड़ रुपये, टीएमसी को 56.328 करोड़ रुपये, अन्नाद्रमुक को 14.46 करोड़ रुपये और भाकपा को 8.05 करोड़ रुपये मिले।

जहां माकपा ने कुल 32.74 करोड़ रुपये खर्च किए, जिसमें से प्रचार पर 21.509 करोड़ रुपये और यात्रा खर्च पर 1.173 करोड़ रुपये खर्च किए। चुनावों के दौरान अन्नाद्रमुक का कुल खर्च 57.33 करोड़ रुपये रहा और उसमें से 56.756 करोड़ रुपये प्रचार में खर्च किए। रिपोर्ट के अनुसार, भाकपा ने चुनाव में 5.68 करोड़ रुपये खर्च किए जिसमें से प्रचार पर 3.506 करोड़ रुपये खर्च किए।

एडीआर-नेशनल इलेक्शन वॉच ने 2021 में पांच राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में विधानसभा चुनावों के दौरान कुल 19 राजनीतिक दलों द्वारा प्राप्त धन और व्यय का विश्लेषण किया। भाजपा, कांग्रेस, बसपा, राकांपा, टीएमसी, सीपीआई (एम), सीपीआई, डीएमके, एआईएमआईएम, सीपीआई (एमएल)(एल), एआईएफबी, एजीपी, अन्नाद्रमुक, पीएमके, सपा सहित 19 पार्टियों के फंड और खर्च का विश्लेषण किया गया था। एडीआर ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि असम, केरल, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और पुडुचेरी विधानसभा चुनावों के दौरान 2021 में 19 राजनीतिक दलों द्वारा एकत्र किया गया कुल धन 1,116.81 करोड़ रुपये था और कुल खर्च 514.30 करोड़ रुपये था।

Related Posts

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X