जावुर युगुऐव से 4-7 से हारे भारतीय पहलवान रवि दहिया मिला सिल्वर मेडल, गोल्ड के लिए अभी और इन्तिज़ार

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

टोक्यो. भारतीय पहलवान रवि दहिया को टोक्यो में सिल्वर मेडल मिला. 57 किग्रा वेट कैटेगरी के फाइनल में दहिया को दो बार के वर्ल्ड चैंपियन रूस ओलंपिक समिति के जावुर युगुऐव से 4-7 से हार मिली. इसके ही साथ भारत का 13 साल से ओलंपिक में गोल्ड मेडल का इंतजार अभी भी जारी है. अंतिम बार 2008 में शूटर अभिनव बिंद्रा ने गोल्ड मेडल जीता था.

जावुर युगुऐव ने अच्छी शुरुआत करते हुए 2-0 की बढ़त बनाई. इसके बाद रवि दहिया ने वापसी करते हुए स्कोर 2-2 से बराबर कर दिया. जावुर ने फिर वापसी की और दो अंक बनाते हुए 4-2 की बढ़त बना ली. पहले तीन मिनट तक स्कोर यही रहा. इसके बाद स्काेर 7-2, 7-4 से जावुर के पक्ष में ही रहा. जावुर युगुऐव ने 2018 और 2019 वर्ल्ड चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता था.

ओलंपिक के सेमीफाइनल में उन्होंने ईरान के रेजा अत्रिनाघारचिनी को 8-3 से हराया था. वहीं चौथी वरीयता प्राप्त रवि दहिया ने सेमीफाइनल में कजाकिस्तान के नूरीस्लाम को मात दी थी. सेमीफाइनल में रवि एक समय 7 अंक से पीछे चल रहे थे, लेकिन शानदार वापसी करते हुए मुकाबला जीता था. 23 साल के रवि दहिया और 26 साल जावुर युगुऐव 2019 वर्ल्ड चैंपियनशिप में भिड़े थे. तब जावुर ने मुकाबला 6-4 से जीता. रवि ने तब ब्रॉन्ज मेडल जीता था. रवि दहिया ने 2020 और 2021 एशियन चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता था. वहीं 2018 अंडर-23 चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल अपने नाम किया था.

रवि दहिया कुश्ती में ओलंपिक मेडल जीतने वाले पांचवें भारतीय बने. सुशील कुमार ने 2008 बीजिंग ओलंपिक में ब्रॉन्ज जबकि 2012 लंदन ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीता था. वे 2016 ओलंपिक के लिए क्वालिफाई नहीं कर सके थे. योगेश्वर दत्त ने 2012 में ब्रॉन्ज और महिला पहलवान साक्षी मलिक ने 2016 रियो में ब्रॉन्ज पर कब्जा किया था. इससे पहले केडी जाधव ने 1952 हेलसिंकी ओलिंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता था. वे ओलंपिक में मेडल जीतने वाले भारतीय पहलवान थे.

 

Related Posts

Header

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X