लड़की हूं लड़ सकती हूं मैराथन इवेंट’ ने बटोरीं जबरदस्त कामयाबी, लड़कियों में दिखा जबदस्त उत्साह

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

लखनऊ, उत्तर प्रदेश में कांग्रेस का ‘लड़की हूं लड़ सकती हूं मैराथन इवेंट’ जबरदस्त कामयाबी बटोर रहा है। प्रदेश के मेरठ, नोएडा, झांसी के बाद आज लखनऊ में जोश से लबरेज हजारों लड़कियों ने इसमें भाग लिया।

सुबह आश्चर्यजनक रूप से सैकड़ों लड़कियां सुबह 6 बजे ही पहुंचनी शुरू हो गईं। 8 बजे तक यह तादाद हजारों में पहुंच गई। सफेद रंग की टी शर्ट पर गुलाांबी रंग से लिखी हुई ‘लड़की हूं लड़ सकती हूं’ पंक्ति आज पूरे लखनऊ को प्रेरित कर रही थी। मैराथन ऐसे समय शुरू हुई जब राजधानी की सड़कों पर स्थानीय निवासी मोर्निंग वॉक पर थे। हालांकि मैराथन इकाना स्टेडियम में आयोजित की गई थी। प्रतिभागियोंं को इस स्टेडियम के चारों ओर 5 किमी दौड़ लगानी थी।

इससे पहले कांग्रेस इस मैराथन को 1090 चौराहों पर आयोजित कराना चाहती थी जिसकी अनुमति नहीं दी गई थी। इस पर कांग्रेस नेता अजय कुमार श्रीवास्तव उर्फ अज्जू ने आरोप लगाया था कि योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली बीजेपी सरकार ने मेरठ, नोएडा और झांसी की मैराथन की कामयाबी देखकर नकारात्मक तरीके से बेटियों को सड़क पर दौड़ने की अनुमति रदद् कर दी थी, क्योंकि ये सरकार लड़कियों के खुली हवा में सांस लेने की आजादी की विरोधी है।

आज इस प्रतियोगिता का आयोजन लखनऊ के गोमतीनगर के सेक्टर 7 के इकाना स्टेडियम में किया गया। 5 किमी की इस मैराथन में विजेता लड़कियों को स्कूटी, स्मार्टफोन, फिटनेस बैंड और मेडल प्रदान किए गए। मैराथन की विजेता प्रयागराज की बेटी पूजा पटेल रहीं। मैराथन के समापन के दौरान कांग्रेस नेता राजीव शुक्ला ने लड़कियों की सराहना करते हुए कहा कि इन लड़कियों का आत्मविश्वास देखकर उन्हें विश्वास हो गया है कि उत्तर प्रदेश में महिला क्रांति आने जा रही है। प्रियंका गांधी जी के नारे ‘लड़की हूं लड़ सकती हूं’ की गूंज आज लखनऊ से सम्पूर्ण देश मे सुनाई दे रही है। इस अदुभुत और अविस्मरणीय आयोजन का साक्षी बनकर मैं अभिभूत हूं।

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने भी लडकियों के उत्साह की बेहद तारीफ की और कहा कि कांग्रेस पार्टी आगामी चुनाव में 40 फीसदी टिकट महिलाओं को देने जा रही है। प्रियंका गांधी जी वो करने जा रही हैं जो इससे पहले किसी ने भी नहीं किया है। यह बेहद खुशी का माहौल है। प्रदेश की नारी शक्ति सम्मानित महसूस कर रही है। इस दौरान कांग्रेस नेता राकेश सचान और नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने भी लड़कियों का उत्साह बढ़ाया।

मैराथन में जोरशोर से जुटी कांग्रेस की प्रवक्ता रफत फातिमा ने बताया कि इस शानदार मैराथन प्रतियोगिता का मुख्य उद्देश्य बेटियों को अवसर प्रदान करना और उन्हें आत्मविश्वास से परिपूर्ण बनाना है। हमें खुशी है कि हम ऐसा करने में कामयाब हो रहे हैं। लड़कियों का आत्मविश्वास चरम पर है। लखनऊ में इस मैराथन दौड़ की तैयारी एक सप्ताह से चल रही है। हम जानती हैं कि लखनऊ की बेटियां अधिक सजग हैं और वो विभिन्न प्रतियोगिताओं में बढ़कर हिस्सा लेती हैं। इसलिए हम संख्या को लेकर सकारात्मक थे। इसके अलावा उत्तर प्रदेश के मेरठ, नोएडा और झांसी के इवेंट की कामयाबी को देखते हुए लखनऊ की लड़कियों से उम्मीद बहुत बढ़ गई थी। यकीनन आज बेटियों ने कमाल कर दिया है। लखनऊ के निवासियों ने भी इस पर काफी दिल खोल कर सराहना की। यह एक अदुभुत इवेंट था। लड़कियां सचमुच लड़ सकती हैं, इनमें हिम्मत है।

लखनऊ के बाद कांग्रेस उत्तर प्रदेश में दर्जनों जनपदों में ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ मैराथन का आयोजन करने जा रही है। इससे पहले वो मेरठ, नोएडा और झांसी में इसका आयोजन कर चुकी है। लखनऊ की निवासी और इस मैराथन में शिरकत करने आईं आइशा अमीन ने कहा कि इतना बढ़िया इवेंट उन्होंने अपनी पूरी जिंदगी में नहीं देखा। हजारों लड़कियों को सड़कों पर सैलाब की तरह आते देखकर एक बारगी उनकी आंख में खुशी के आंसू आ गए। समय बदल रहा है, हम बेटियां इस बदलाव को लेकर आएंगी। मैं प्रियंका गांधी जी का शुक्रिया अदा करती हूं। यह बेजोड़ अवसर है।

मैराथन की विजेता पूजा पटेल इस दौड़ में भाग लेने के लिए प्रयागराज से आईं। वो उन तीन लड़कियों में से एक हैं जिन्हें स्कूटी प्रदान की जाएगी। उसके अलावा सभी विजेताओं को स्मार्टफोन और फिटनेस बैंड देकर सम्मानित किया जाएगा।

Related Posts

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X