मान्यता देने के मामले में लखनऊ के BSA विजय प्रताप सिंह निलंबित, जांच शुरू

लखनऊ, राजधानी लखनऊ में कैसरबाग स्थित 135 साल पुराने सेंटीनियल इंटर कालेज (Centennial Inter College) के भवन परिसर और खेल मैदान पर कब्जा कर मैथोडिस्ट चर्च स्कूल गोलागंज का बोर्ड लगाया गया।

बेसिक शिक्षा अधिकारी (BSA) विजय प्रताप सिंह ने स्कूल को कक्षा एक से पांच तक और तत्कालीन मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक (AD) बेसिक पीएन सिंह ने कक्षा छह से आठ तक की मान्यता मनमाने तरीके से दी। प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा दीपक कुमार ने जांच रिपोर्ट मिलने के एडी बेसिक, बीएसए व प्रधान सहायक को निलंबित कर दिया है। पीएन सिंह इस समय जिला विद्यालय निरीक्षक प्रयागराज के पद पर तैनात हैं।

सेंटीनियल हायर सेकेंड्री स्कूल पर कब्जे का प्रकरण तूल पकड़ने पर जिलाधिकारी लखनऊ ने मुख्य विकास अधिकारी, संयुक्त शिक्षा निदेशक, मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक, नगर मजिस्ट्रेट, जिला विद्यालय निरीक्षक व बीएसए लखनऊ के साथ जांच शुरू की। डीएम के समक्ष आठ जुलाई को चेयरमैन दि लखनऊ क्रिश्चियन कालेज गोलागंज लखनऊ बिशप सुबोध सी मंडल ने उपस्थित होकर लिखित शिकायत किया कि सरकारी सहायताप्राप्त सेंटीनियल स्कूल के भवन व खेल मैदान पर अनिमा रिसाल सिंह की अगुवाई में अन्य लोगों ने अवैध रूप से कब्जा कर लिया है।

लिखा कि उस भवन पर मैथोडिस्ट चर्च स्कूल गोलागंज लखनऊ का बोर्ड लगाया गया है और उसकी मान्यता बेसिक शिक्षा विभाग से ली गई है। इस विषय में उनकी ओर से कोई सहमति नहीं दी गई। प्रमुख सचिव को 12 जुलाई को डीएम ने जांच रिपोर्ट भेजी। इसमें कहा गया है कि मैथोडिस्ट चर्च स्कूल गोलागंज लखनऊ की कोआर्डिनेटर ने कहा कि सेंटीनियल स्कूल के भवन में संचालन पर उन्हें कोई आपत्ति नहीं है।

अभिभावकों की ओर से शिकायत की गई कि बच्चों के प्रवेश के समय बताया गया कि स्कूल सीबीएसई से मान्यता प्राप्त है और मैथोडिस्ट चर्च स्कूल की शाखा है, जबकि स्कूल की मान्यता बेसिक शिक्षा से लेकर उनके साथ फ्राड किया गया है। सेंटीनियल स्कूल व संबंधित सोसाइटी की ओर से अनेक प्राथमिकी दर्ज कराई जा चुकी हैं।

महानिदेशक स्कूल शिक्षा की जांच में सामने आया कि स्कूल को कक्षा एक से पांच तक की मान्यता बीएसए विजय प्रताप सिंह ने व कक्षा छह से आठ तक की मान्यता एडी बेसिक पीएन सिंह ने बिना जांच किए दे दी। इसमें दोनों ने लापरवाही की है। प्रमुख सचिव ने दोनों को निलंबित करके अनुशासनिक जांच शुरू करा दी है।

एडी बेसिक व बीएसए की अनुशासनिक जांच मंडलीय संयुक्त शिक्षा निदेशक लखनऊ मंडल को सौंपी गई है। दोनों शिक्षा निदेशक बेसिक के शिविर कार्यालय से संबद्ध रहेंगे। अपर शिक्षा निदेशक बेसिक अनिल भूषण चतुर्वेदी ने एडी बेसिक कार्यालय के प्रधान सहायक दाता प्रसाद को भी निलंबित कर दिया है, वे सीटीई लखनऊ से संबद्ध रहेंगे।

Related Posts

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X