भारत बंद का हुआ मिला-जुला असर, राकेश टिकैत ने कहा किसानों का आज का भारत बंद कामयाब रहा

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

नई दिल्ली, तीन नए कृषि क़ानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे किसानों के 40 से ज़्यादा किसान संगठनों ने सोमवार को भारत बंद बुलाया। सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक बंद चले भारत बंद का असर मिला-जुला रहने की ख़बरें हैं।

जहां एक ओर भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा है कि किसानों का आज का भारत बंद कामयाब रहा और संयुक्त किसान मोर्चा आगे की रणनीति तय करेगा. संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा है कि बंद का अप्रत्याशित असर हुआ।

उन्होंने कहा, “हम सबकुछ तो बंद नहीं कर सकते क्योंकि हमें लोगों की आवाजाही भी जारी रखनी है.”

टिकैत ने एक बार फिर दोहराया कि किसान वार्ता के लिए तैयार हैं. उन्होंने कहा, “हम सरकार के साथ बात करने के लिए तैयार हैं मगर कोई बातचीत हो ही नहीं रही.”

अखिल भारतीय किसान सभा के अध्यक्ष अशोक धवले ने भी बंद को कामयाब बताया. उन्होंने एएनआई से कहा, “भारत बंद को पिछले कई सालों में इतना समर्थन कभी नहीं मिला था, 25 से ज़्यादा राज्यों में बंद कामयाब हुआ है. जब तक किसान विरोधी कानून वापस नहीं लिए जाते और MSP की गारंटी देने वाला केंद्रीय कानून न हो, हम तब तक संघर्ष करने के लिए तैयार हैं.”

धवले ने साथ ही कहा, “हम संघर्ष को राजनीतिक रूप भी दे रहे हैं, केरल, तमिलनाडु, बंगाल चुनाव में भाजपा हारी. अगले छह महीने में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और पंजाब में विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं, संयुक्त किसान मोर्चा ने तय किया है कि इन तीनों राज्यों में हम भाजपा को हराएंगे.”

भारत बंद की वजह से गुरुग्राम-दिल्ली सीमा पर ज़बरदस्त जाम लग गया. इसकी बड़ी वजह वहाँ दिल्ली पुलिस और अर्धसैनिक बलों की चेकिंग बताई जा रही थी

दिल्ली और नोएडा को जोड़ने वाले डीएनडी मार्ग पर भी यातायात प्रभावित हुआ था।

दिल्ली पुलिस ने लोगों से ग़ाज़ीपुर सीमा पर यात्रा करने से बचने की सलाह जारी की थी. ग़ाज़ीपुर सीमा के पास दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे बंद कर दिया गया जिससे वहाँ दोनों ओर ज़बरदस्त जाम लग गया थी.

ग़ाज़ियाबाद पुलिस ने गाज़ियाबाद और निज़ामुद्दीन को जोड़ने वाले राजमार्ग को बंद कर दिया था.

समाचार एजेंसी ने वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के हवाले से लिखा है यूपी से दिल्ली के कई मार्गों पर ट्रैफ़िक को डायवर्ट कर दिया गया था. हापुड़ से ग़ाज़ियाबाद आनेवाली गाड़ियों को नोएडा की ओर डायवर्ट किया जा रहा था.

हालाँकि, अधिकारियों ने बताया है कि ग़ाज़ीपुर बोर्डर के अलावा दिल्ली और ग़ाज़ियाबाद के बीच की अन्य तीन सीमाएँ खुली थी. वैसे ही नोएडा और दिल्ली के बीच के रास्ते भी खुले थे।

वैसे, नोएडा से दिल्ली में बीबीसी के दफ़्तर आने वाले बीबीसी के कई पत्रकारों ने बताया कि दोपहर के समय दिल्ली-नोएडा मार्ग पर यातायात सामान्य हो चुका था।

हरियाणा के बहादुरगढ़ स्टेशन पर किसानों ने रेल लाईन पर बैठकर प्रदर्शन किया

पंजाब में अमृतसर के देवीदासपुर में किसानों ने अमृतसर-दिल्ली रेलवे ट्रैक पर धरना दिया

उत्तर रेलवे ने कहा है कि प्रदर्शनकारियों के पटरियों पर बैठने के कारण दिल्ली, अंबाला और फ़िरोज़पुर डिवीज़न में ट्रेनों के संचालन पर असर पड़ा

रेलवे के अनुसार दिल्ली डिवीज़न में 20 से ज़्यादा जगहों पर प्रदर्शनकारियों ने रेलमार्ग को रोक दिया है. अंबाला और फ़िरोज़पुर डिवीज़नों में लगभग 25 ट्रेनों पर असर असर पड़ा

भारत बंद का असर उत्तर भारत के पंजाब और हरियाणा से लेकर दक्षिण भारत के केरल तक नज़र आया

समाचार एजेंसी ने केरल की राजधानी तिरुवनंतपुरम की कुछ तस्वीरें पोस्ट की हैं जहाँ दुकानें बंद और सड़कें सूनी नज़र आ रही हैं. केरल में एलडीएफ़ और यूडीएफ़ से जुड़े ट्रेड यूनियन ने भारत बंद का समर्थन किया ।

वहीं तमिलनाडु में चेन्नई में प्रदर्शनकारियों ने पुलिस की बैरिकेडिंग को तोड़ दिया. एएनआई के अनुसार कई प्रदर्शनकारियों को हिरासत में भी लिया गया ।

अमृतसर समेत पंजाब के कई शहरों में किसानों के बंद के मद्देनज़र सुबह पाँच बजे से ही पुलिस तैनात कर दी गई ।

बिहार में बंद के कारण बिहार के हाजीपुर-मुज़फ़्फ़रपुर रोड और पटना को उत्तर बिहार से जोड़नेवाले महात्मा गांधी सेतु पर ट्रैफ़िक प्रभावित हुआ।

 

Related Posts

Header

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X