अब ड्राइविंग लाइसेंस का टेस्ट होगा ऑनलाईन, घर बैठे ही कर सकेंगे डाऊनलोड

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

बाराबंकी, अब ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए आवेदकों को आरटीओ कार्यालयों के चक्कर नही लगाने होंगे, क्योंकि विभाग ने ऑनलाइन लर्निंग लाइसेंस जारी करने का एक खास मैकेनिज्म तैयार किया है. खास बात ये है कि इस नई व्यवस्था के तहत आवेदक को टेस्ट देने के लिए भी कार्यालय नहीं आना होगा. ऑनलाइन सड़क सुरक्षा का ट्यूटोरियल पूरा करने के बाद आवेदक का ऑनलाइन टेस्ट होगा. टेस्ट में पास होने पर उसका लाइसेंस जारी कर दिया जाएगा, जिसे आवेदक घर बैठे ही डाउनलोड कर सकेगा.

परिवहन विभाग द्वारा इस नई फेसलेस और पेपरलेस व्यवस्था को बाराबंकी से पायलेट प्रोजेक्ट के रूप में शुरू किया जा रहा है. इसकी कामयाबी के बाद इस व्यवस्था को पूरे सूबे में लागू किया जाएगा. गौरतलब है कि वाहनों को चलाने के लिए सबसे पहले लर्नर्स लाइसेंस बनता है फिर नियत समय यानी एक महीना बीत जाने के बाद स्थायी लाइसेंस जारी किया जाता है।

लर्निंग लाइसेंस के लिए पहले से ही ऑनलाइन व्यवस्था लागू है, लेकिन परिवहन विभाग ने इसमें नई व्यवस्था लागू की है. अभी तक ऑनलाइन फार्म सबमिट कर देने और फीस जमा कर देने के बाद फार्म की स्क्रूटनी और वाहन चलाने का टेस्ट देने के लिए आवेदक को कार्यालय आना पड़ता था, लेकिन अब इस नई व्यवस्था के तहत आवेदक का टेस्ट भी ऑनलाइन होगा. इस नई व्यवस्था को बाराबंकी से ‘पायलट प्रोजेक्ट’ के रूप में 23 अगस्त से शुरू किया जा रहा है. बाराबंकी में शुरू होने वाली इस व्यवस्था के गुण-दोष देखकर इसे पूरे सूबे में लागू किया जाएगा।

शासन की इस नई व्यवस्था से न केवल आवेदकों को कार्यालयों के चक्कर लगाने से मुक्ति मिलेगी बल्कि इससे बिचौलियों के जाल में फंसकर ठगे जाने से भी छुटकारा मिलेगा. यही नहीं आवेदक जहां घर बैठे ही कम समय में आसानी से अपना लाइसेंस हासिल कर सकेंगे तो वहीं इस व्यवस्था से भ्रष्टाचार पर भी लगाम लगेगी.

आवेदक विभाग द्वारा तैयार किये गए सारथी पोर्टल https://sarathi.parivahan.gov.in को क्लिक कर निर्धारित कॉलम में अपना आधार नंबर डालना होगा. आधार प्रमाणीकरण के बाद आधार कार्ड पर दर्ज नाम, माता-पिता का नाम, जन्मतिथि, पूरा पता और फोटो अपने आप फेच होकर आवेदनकर्ता के आवेदन पर दर्ज हो जाएगी. इस तरह फार्म भरने की प्रक्रिया भी न केवल सरल और त्वरित हो जाएगी बल्कि इसमें गलतियों की भी संभावना बहुत कम होगी. हां आवेदन करते समय ये जरूरी है कि आवेदन फार्म में वही मोबाइल नंबर अंकित किया जाए जो आधार कार्ड में अंकित हो

आवेदना फार्म भरने, आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड करने और नियमानुसार फीस के ऑनलाइन भुगतान के बाद सारथी पोर्टल पर ही सड़क सुरक्षा का शिक्षण ऑनलाइन रूप से पूरा करना होगा. इस आवेदन की कार्यालय स्तर पर फेसलेस जांच की जाएगी, जिसमें आवेदक को कार्यालय नहीं आना होगा. जांच में आवेदन सही पाए जाने पर आवेदनकर्ता को उसके मोबाइल पर लर्निंग लाइसेंस के ऑनलाइन टेस्ट के लिए ओटीपी भेजी जाएगी. इसी ओटीपी के जरिये आवेदक को ऑनलाइन टेस्ट देना होगा. टेस्ट पास करने और लाइसेंसिंग अथॉरिटी द्वारा अनुमोदन किये जाने के बाद आवेदक के मोबाइल पर एक लिंक भेजा जाएगा, जिसके द्वारा वह घर बैठे ही अपने लर्निंग लाइसेंस को डाउनलोड कर सकेगा और उसे प्रिंट करा सकेगा.

ऑनलाइन परीक्षा से पहले आवेदक को ट्यूटोरियल दिया जाएगा, जिसे निर्धारित समय के अंदर पढ़ना और समझना होगा. उसके बाद आवेदक के सामने 16 प्रश्न आएंगे, जिनमें से कम से कम 09 प्रश्नों के सही जवाब देने होंगे. निश्चय ही आम जनमानस की सुविधा के लिए परिवहन विभाग की ये नई व्यवस्था आने वाले समय में मील का पत्थर साबित होगी।

Related Posts

Header

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X