अब नही कर पाएंगे ट्रेन में सफर : यदि आपके पास नही है कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट तो नही मिलेगा ट्रेन का टिकट

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

नई दिल्ली, कोरोना वायरस संक्रमण तेज़ी से बढ़ रहा है. ऐसे में एक बार फिर पाबंदियां लगाई जा रही हैं. अगर आप ट्रेन में यात्रा करने जा रहे हैं तो आपको कई सख्त नियमों का सामना करना होगा।

रेलवे स्टेशन पर टिकट तभी मिलेगा जब वैक्सीन का दोनों डोज़ वाला सर्टिफिकेट आपके पास होगा. यदि सर्टिफिकेट नहीं है या वैक्सीन (Corona Vaccine) की दोनों डोज़ नहीं लगवाई हैं तो न टिकट मिलेगा और न ट्रेन में एंट्री. इसे लेकर भारतीय रेलवे आदेश जारी कर चुका है. रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने विभिन्न रेलवे क्षेत्रों और मंडलों के वरिष्ठ अधिकारियों को रेलवे अस्पतालों और स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे के उपयोग को आम जनता के लिए सुविधाजनक बनाने का निर्देश दिया. इस बैठक में रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी वी के त्रिपाठी, बोर्ड के सदस्य और रेल मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ-साथ सभी जोनल रेलवे/पीयू के महाप्रबंधक (GM) और मंडल रेल प्रबंधक (DRM) शामिल हुए.

समीक्षा बैठक में केंद्रीय रेल मंत्री अश्वी वैष्णव ने कोविड तैयारी से संबंधित तमात पहलुओं की जांच की. जैसे-रेलवे अस्पताल का बुनियादी ढांचा, बाल चिकित्सा वार्ड कामकाज, टीकाकरण- रेलवे के फ्रंटलाइन वर्कर्स को बूस्टर डोज के प्रावधान सहित रेलवे के कर्मचारियों का टीकाकरण किस स्तर पर है. साथ ही दवाओं की उपलब्धता, ऑक्सीजन की आपूर्ति, जिओलाइट स्टॉक और अन्य आवश्यक चिकित्सा सहायता और वेंटिलेटर, लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन टैंक व ऑक्सीजन संयंत्रों की स्थिति।

रेल मंत्री ने आम लोगों में जागरूकता लाने के लिए रेलवे स्टेशनों पर मास्क अप, हाथों की सफाई और अन्य एहतियाती उपायों के बारे में घोषणाओं की आवृत्ति बढ़ाने को कहा है. रेलवे स्टेशनों पर बिना मास्क के लोगों के प्रवेश पर मनाही है साथ ही मास्क पहनने और अन्य एहतियाती उपायों को बढ़ावा देने के लिए रेलवे की ओर से अभियान चलाया जाएगा।

 

गौरतलब है कि दक्षिणी रेलवे ने रेल यात्रियों के लिए नई गाइडलाइंस भी जारी की है जिसके अनुसार, ”कोविड-19 के बढ़ मामलों और ओमिक्रॉन के खतरे के चलते दक्षिण रेलवे की ट्रेनों में सिर्फ 50 फीसदी यात्रियों को ही यात्रा करने की अनुमति होगी. ये नियम सोमवार (10 जनवरी) सुबह चार बजे से लागू हो गया है, जोकि 31 जनवरी, 2022 को आधी रात तक लागू होंगे. साथ ही दक्षिणी रेलवे में सिर्फ उन्हीं यात्रियों को सफर करने की मंजूरी होगी जिनके पास कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज के सर्टिफिकेट होंगे. यात्रियों को अब टिकट काउंटर पर वैलिड आईडी प्रूफ के साथ दूसरी डोज का सर्टिफिकेट भी दिखाना होगा।

Related Posts

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X