कांटे के मैच में पाकिस्तान ने अफगानिस्तान को एक विकेट से शिकस्त देकर फाइनल का टिकट पक्का किया

शारजाह: शादाब खान के हरफनमौला खेल और दबाव के क्षणों में नसीम शाह (चार गेंद में नाबाद 14 रन) के दो छक्कों की मदद से पाकिस्तान ने एशिया कप टी20 टूर्नामेंट के ‘सुपर फोर’ मैच में बुधवार को अफगानिस्तान को एक विकेट से शिकस्त देकर फाइनल का टिकट पक्का किया।

प्लेयर ऑफ द मैच’ शादाब ने चार ओवर में 27 रन देकर एक विकेट लेने के बाद 26 गेंद में 36 रन की अहम पारी खेली। उन्होंने इफ्तिखार अहमद (30 रन) के साथ चौथे विकेट के लिए 42 रन की अहम साझेदारी की।

पाकिस्तान की इस रोमांचक जीत से अफगानिस्तान के साथ भारतीय टीम भी फाइनल की दौड़ से बाहर हो गयी। 11 सितंबर को खेले जाने वाले फाइनल में पाकिस्तान के सामने श्रीलंका की चुनौती होगी।
कम स्कोर वाले इस बेहद रोमांचक मुकाबले में पाकिस्तान ने पहले गेंदबाजी का फैसला करने के बाद अफगानिस्तान को छह विकेट पर 129 रन पर रोक दिया। अफगानिस्तान ने भी इस लक्ष्य के बचाव के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा दिया।

आखिरी ओवर में पाकिस्तान को जीत के लिए 11 रन जबकि अफगानिस्तान को एक विकेट की जरूरत थी। 10वें क्रम पर बल्लेबाजी करने आये नसीम शाह ने फजलहक फारुरी (31 रन पर तीन विकेट) की शुरुआती दो गेंदों पर छक्का लगाकर टीम को एक विकेट की यादगार जीत दिला दी।

अफगानिस्तान के लिए फारूकी और फरीद अहमद ने तीन-तीन जबकि राशिद खान ने दो विकेट लिये। मुजीब उर रहमान ने चार ओवर में सिर्फ 12 रन दिये।

टीम के लिए इब्राहिम जादरान ने सबसे ज्यादा 35 रन का योगदान दिया। उन्होंने 37 गेंद की पारी में दो चौके और एक छक्का लगाया।

हारिस रउफ पाकिस्तान के सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने 26 रन पर दो विकेट लिये। नसीम, मोहम्मद हसनैन, मोहम्मद नवाज और शादाब ने एक-एक विकेट लिये।

लक्ष्य का पीछा करते हुए फारूकी ने शुरुआती ओवर में ही बाबर आजम को खाता खोले बगैर पगबाधा आउट कर अफगानिस्तान को शानदार शुरुआत दिलायी। शानदार लय में चल रहे मोहम्मद रिजवान (20) तीसरे ओवर में इसी गेंदबाज के खिलाफ छक्का और चौका जड़ा।

फखर जमां (पांच रन) चौथे ओवर की पहली गेंद नजीबुल्लाह के शानदार थ्रो पर रन आउट हो गये।राशिद अहमद और मोहम्मद नबी ने पावरप्ले के बाद किफायती गेंदबाजी की जिसका फायदा रिजवान की विकेट के साथ मिला। राशिद ने शानदार लय में चल रहे रिजवान को अपनी गुगली में फंसा कर पगबाधा किया।

पाकिस्तान ने इसके बाद उपकप्तान शादाब को बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भेजने का फैसला किया जो सफल रहा। उन्होंने दो ओवर संभल कर बल्लेबाजी करने के बाद नबी के खिलाफ 12वें ओवर में छक्का और चौका जड़ने के बाद मुजीब की गेंद को भी दर्शकों के पास पहुंचाया। मुजीब ने अपने चार ओवर में सिर्फ 12 रन दिये।

दूसरे छोर से संभल कर बल्लेबाजी कर रहे इफ्तिखार की 33 गेंद की की पारी को फरीद ने खत्म किया।राशिद का 17वें ओवर में शादाब ने छक्के के साथ स्वागत किया लेकिन इस लेग स्पिनर की अगली गेंद पर आउट हो गये। आसिफ अली (16 रन) ने क्रीज पर कदम रखते ही गेंद को दर्शकों के पास पहुंचाया। इस ओवर से 14 रन बने।

फारूकी ने अगले ओवर की पहली गेंद पर मोहम्मद नवाज (चार रन) और आखिरी गेंद पर खुशदिल शाह (एक रन) के विकेट चटकाकर मैच को रोमांचक बना दिया।

फरीद के द्वारा किया गया 19वां ओवर नाटकीयता से भरा रहा। पहली गेंद पर रउफ बोल्ड हुए लेकिन आसिफ ने इसी ओवर में छक्का जड़ दिया। फरीद ने अगली गेंद पर आसिफ को चलता कर दिया। इसके बाद गेंदबाज और बल्लेबाज में थोड़ी बहस भी हुई जिसे दूसरे खिलाड़ियों और अंपायर ने संभाला।अफगानिस्तान की टीम एक बार फिर आखिरी ओवर में दबाव में बिखर गयी और पाकिस्तान ने यादगार जीत दर्ज की।

इससे पहले अफगानिस्तान के सलामी बल्लेबाजों ने टीम को एक बार फिर तेज शुरुआत दिलाई लेकिन वे बड़ी साझेदारी करने में नाकाम रहे। रहमानुल्लाह गुरबाज (17) ने पारी के दूसरे ओवर में हसनैन के खिलाफ दो छक्के जड़े तो वही हजरतुल्लाह जजई (21) ने चौथे ओवर में हारिस रउफ के खिलाफ दो चौके लगाये। रउफ ने हालांकि इसी ओवर की पांचवीं गेंद पर गुरबाज को बोल्ड कर 11 गेंद की उनकी पारी को खत्म किया। गुरबाज ने जजई के साथ 36 रन की साझेदारी की। जजई पांचवें ओवर में मोहम्मद हसनैन की धीमी गेंद पर गच्चा खाकर बोल्ड हो गये।

लगातार दो झटकों के बाद जदरान और करीम जनत (15) ने जोखिम लेने के बजाय दौड़ कर रन चुराना सही समझा। पाकिस्तान की कसी हुई गेंदबाजी के सामने दोनों तेजी से रन जुटाने के लिए जूझते दिखे। मोहम्मद नवाज ने 12वें ओवर में बड़ा शॉट लगाने की कोशिश कर रहे जनत को पवेलियन की राह दिखायी।

क्रीज पर आये नजीबुल्लाह जदरान (10) ने 14वें ओवर में शादाब खान के खिलाफ छक्का जड़ उम्मीदें जगायी लेकिन इस ओवर की आखिरी गेंद पर वह बोल्ड हो गये।

मोहम्मद नबी अगली ओवर की पहली ही गेंद पर नसीम शाह की गेंद पर खाता खोले बगैर बोल्ड हो गये। जादरान ने रन गति को तेज करने के लिए शादाब की गेंद पर छक्का जड़ा लेकिन 17वें ओवर में रउफ की गेंद पर विकेटकीपर रिजवान को कैच थमा दिया। इस ओवर से सिर्फ एक रन आये।

अजमतुल्लाह ओमरजाई और राशिद खान की जोड़ी ने इसके बाद आखिरी तीन ओवरों में 24 रन जोड़े जिसमें राशिद ने आखिरी ओवर में रउफ के खिलाफ लगातार गेंदों पर छक्का और चौका जड़ा। राशिद 18 और ओमरजाई 10 रन पर नाबाद रहे। दोनों ने सातवें विकेट के लिए 25 रन की अटूट साझेदारी की।

Related Posts

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X