आलोचकों के मुँह पर ताला जड़ पाकिस्तान पहुंचा सेमीफाइनल में, उलट फेर करते हुए नीदरलैंड ने साउथ अफ्रीका को हराया

मेलबोर्न, “हारकर जीतने वाले को बाजीगर कहते हैं.” इस कहावत को पाकिस्तान ने बखूबी साबित करते हुए अपने आलोचकों के मुंह पर ताला जड़ दिया है । T20 वर्ल्ड कप 2022 में पाकिस्तान क्रिकेट टीम के सेमीफाइनल तक का सफर उसके ऐसी ही बाजीगरी की कहानी कहता है.

इस टीम ने हार कर जीता है सेमीफाइनल का टिकट. 5 नवंबर तक सेमीफाइनल के सीन से लगभग बाहर था पाकिस्तान. लेकिन 6 नवंबर को अचानक से ही किस्मत ने यू टर्न लिया और सारे नतीजे उसके फेवर में आ गए.

मैच दर मैच पाकिस्तान के सेमीफाइनल के सफर की पूरी दास्तान बताएं, उससे पहले ये जान लीजिए कि 6 नवंबर को ऐसा क्या खास हुआ, जिसने पाकिस्तान के लिए कांटों से भरे डगर को आसान कर दिया. ऐसा मुमकिन हुआ क्योंकि नेदरलैंड्स से साउथ अफ्रीका हार गई और बांग्लादेश से पाकिस्तान जीत गया. अब पाकिस्तान के 4 मैचों में 3 जीत के साथ 6 अंक हैं और वो भारत के साथ सेमीफाइनल में जाने का टिकट ले चुका है.

किस्मत मेहरबान, सेमीफाइनल में पाकिस्तान

पाकिस्तान को सेमीफाइनल के टिकट के लिए नेदरलैंड्स से साउथ अफ्रीका का हारना या उसके मुकाबले का धुलना जरूरी था. इसके बाद ये भी चाहिए था कि वो बांग्लादेश से अपना मुकाबला जीते. ये दोनों ही नतीजे उसके फेवर में रहे और वो सेमीफाइनल में पहुंच गया.

लेकिन, पाकिस्तान का सेमीफाइनल में पहुंचना टूर्नामेंट में कभी भी आसान नहीं था. ऐसा इस वजह से क्योंकि T20 वर्ल्ड कप 2022 के अंदर इस टीम की शुरुआत काफी भयावह रही थी. पाकिस्तान की टीम सुपर 12 में अपने पहले दो मैच हार चुकी थी. पहले मैच में भारत ने हराया तो बात समझ में आई. भारत से हार को पाकिस्तान हजम भी कर गया. लेकिन फिर अगले ही मैच में जिस तरह से जिम्बाब्वे ने उसे लपेटे में लेकर चौका दिया. उसके बाद पाक टीम के सेमीफाइनल खेलने पर बड़ा प्रश्न चिन्ह लग गया.

पाकिस्तान का मनोबल बुरी तरह से टूट गया था. उसके खिलाड़ियों के बॉडी लैंग्वेज, परफॉर्मेन्स सब पर इसका असर दिख रहा था. लेकिन, इन सबके बीच पाक टीम ने खुद को एकजुट रखा. अपनी हिम्मत को बनाए रखा. नतीजा ये हुआ कि किसी तरह से वो नेदरलैंड्स के खिलाफ अपना अगला मैच जीतने में कामयाब रहे.

नेदरलैंड्स को हरा तो दिया. इसने उनके गिरे मनोबल के लिए संजीवनी का भी काम किया था लेकिन अभी काम पूरा नहीं हुआ था. पाकिस्तान सेमीफाइनल की रेस में तो था लेकिन अपनी मेहनत के साथ साथ दूसरी टीमों के रहमत के भरोसे. और, इन सबके बीच पाकिस्तान के सामने अगली बड़ी चुनौती साउथ अफ्रीका की थी. यानी वो टीम जिसने अपने पिछले मैच में भारत को हराया था.

साउथ अफ्रीका को हराने के बाद किस्मत ने लिया यू-टर्न

पाकिस्तान ने साउथ अफ्रीका की चुनौती का दिलेरी से सामना किया और शानदार जीत की स्क्रिप्ट लिखी. इस जीत के बाद पाकिस्तान टीम के खिलाड़ियों का बॉडी लैंग्वेज और बदल गया. उन्हें आशा की किरण दिखाई देने लगी. अब सबकुछ सुपर 12 के आखिरी मैच पर टिका था, जहां उन्हें बस ये दुआ करनी थी की साउथ अफ्रीका नेदरलैंड्स से हार जाए और वो खुद बांग्लादेश से अपना मैच जीत जाएं. और, हुआ भी ठीक ऐसा ही है.

वैसे भी जो लड़ते हैं किस्मत भी उन्हीं का साथ देती है और पाकिस्तान की टीम के केस में भी फिलहाल ऐसा ही. इसीलिए वो बाजीगर की तरह सेमीफाइनल में पहुंचे हैं.

Related Posts

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X