आरएसएस एवं भाजपा के लोग महिला शक्ति को दबा रहे हैं और भय का माहौल पैदा कर रहे हैं : राहुल गांधी

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

नई दिल्ली, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भारतीय जनता पार्टी पर जमकर हमला बोला है. केरल के वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने आरएसएस और बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि ये लोग हिंदू नहीं हैं, ये सिर्फ हिंदू धर्म का इस्तेमाल करते हैं।

राहुल गांधी ने आरएसएस और बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि ये लोग हिंदू नहीं हैं, ये सिर्फ हिंदू धर्म का इस्तेमाल करते हैं।

न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, कांग्रेस नेता राहुल गांधी बीजेपी पर हमला जारी रखते हुए आगे कहा कि वो अपने आप को हिन्दू पार्टी कहते हैं और पूरे देश में लक्ष्मी और दुर्गा पर आक्रमण करते हैं. जहां ये जाते हैं, कहीं लक्ष्मी को और कहीं दुर्गा को मारते हैं. ​ये हिन्दू धर्म का प्रयोग करते हैं, ये धर्म की दलाली करते हैं. मगर ये हिन्दू नहीं हैं. राहुल गांधी ने कहा कि मैं बाकी विचारधारों के साथ कोई न कोई समझौता कर सकता हूं, मगर आरएसएस और बीजेपी की विचारधारा के साथ कभी समझौता नहीं कर सकता।

अखिल भारतीय महिला कांग्रेस के स्थापना दिवस समारोह में राहुल गांधी ने दावा किया कि आरएसएस एवं भाजपा के लोग महिला शक्ति को दबा रहे हैं और भय का माहौल पैदा कर रहे हैं. कांग्रेस नेता ने कहा भाजपा और आरएसएस के लोगों ने पूरे देश में डर फैलाया है. किसान डरे हुए हैं. उन्होंने कहा कि आरएसएस महिला शक्ति को दबाता है, लेकिन कांग्रेस का संगठन महिला शक्ति को समान मंच देता है।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने नोटबंदी और जीएसटी का उल्लेख करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार ने लक्ष्मी की शक्ति और दुर्गा की शक्ति पर आक्रमण किया है. राहुल गांधी ने जोर देकर कहा कि देश में आरएससस और भाजपा की सरकार है. इनकी विचारधारा और हमारी विचारधारा अलग अलग हैं. जबकि, कांग्रेस की विचारधारा गांधी की विचारधारा है. गोडसे और सावरकर की विचारधारा और हमारी विचारधारा में क्या फर्क है. इसे हमें समझना होगा. हमें इनके खिलाफ प्रेम से लड़ना है. नफरत के जरिये हम नहीं लड़ सकते।

राहुल गांधी ने कहा कि पिछले 100-200 साल में किसी एक व्यक्ति ने अगर हिंदू धर्म को सबसे अच्छे तरीके से समझा और अपने व्यवहार में लाया, तो वह महात्मा गांधी हैं. इसे हम भी मानते हैं और आरएससस एवं भाजपा के लोग भी मानते हैं. महात्मा गांधी ने अहिंसा को सबसे अच्छे तरीके से जिया. हिंदू धर्म की बुनियाद अहिंसा है. इसके बावजूद आरएसएस की विचारधारा द्वारा महात्मा गांधी को गोली क्यों मारी गई. इस बारे में आपको सोचना होगा. राहुल गांधी ने कहा कि वे आरएसएस और भाजपा की विचारधारा के साथ कभी समझौता नहीं कर सकते।

Related Posts

Header

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X