शुरू हो गया पोस्टर वार, यूपी प्लस बिहार=गई मोदी सरकार, जानिए क्या हैं मायने

लखनऊ, उत्तर प्रदेश में बिहार की सियासत को लेकर एक नए तरह के पोस्टर की एंट्री हो गई है। अभी बिहार में हाल में हुए राजनीतिक उलटफेर से प्रेरित यह पोस्टर शनिवार को लखनऊ में समाजवादी पार्टी के कार्यालय के बाहर लगा नजर आया।

 

लखनऊ स्थित समाजवादी पार्टी के प्रदेश कार्यालय के बाहर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के पोस्टर लगाए जा रहे हैं, जिसके माध्यम से संदेश दिया जा रहा है कि यूपी और बिहार एकजुट होकर बीजेपी के लोकसभा सदस्यों की संख्या कम कर दें तो केंद्र से बीजेपी की सरकार खिसक सकती है। पोस्टर पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की तस्वीरों के साथ लिखा है-यूपी प्लस बिहार=गई मोदी सरकार। यह पोस्टर सपा नेता आईपी सिंह ने लगवाया है।

उत्तर प्रदेश के प्राथमिक विद्यालयों का हाल, स्कूल में पढ़ाई करने गए छात्रों से धुलवाया टॉयलेट, यहाँ देखिये वीडियो

सपा दफ्तर के बाहर लगे पोस्टर के मकसद के बारे में पार्टी नेता आईपी सिंह ने मीडिया से कहा कि यूपी और बिहार देश की सियासत की दशा-दिशा तय करने वाले राज्य हैं। ये दोनों बड़ी आबादी वाले राज्य हैं। साथ ही राजनीतिक रूप से जागरूकता भी यहां है। उन्होंने कहा कि विपक्षी दलों ने अब मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। निश्चित ही यह अपने मकसद में सफल रहेगा। सपा नेता आई पी सिंह ने कहा कि पूरे प्रदेश में इस तरह का अभियान चलाया जाएगा।

ब्रिटेन में महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के सम्मान में एक दिन का राजकीय शोक, पूरे देश में राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा

बता दें कि समाजवादी पार्टी मुखिया अखिलेश यादव बिहार में लगातार महागठबंधन और बीजेपी विरोधी मोर्चे के साथ एकजुटता का प्रदर्शन करते रहे हैं। गौरतलब है कि पिछले दिनों को नीतीश कुमार ने दिल्ली में सपा के संरक्षक मुलायम सिंह यादव और अध्यक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात की थी। तब नीतीश ने कहा था कि अखिलेश यूपी का नेतृत्व करेंगे।

दर्दनाक हादसा, प्रतिमा विसर्जन के दौरान छह बच्चों और एक युवक सहित 7 लोगों की मौत

Related Posts

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X