रिलायंस मोबिलिटी और स्विगी ने मिलाया हाथ, ई-व्‍हीकल द्वारा फु़ड डेलिवरी को लेकर हुआ करार

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

नयी दिल्ली, देश में इलेक्ट्रिक वाहनों से फूड डिलिवरी को बढ़ावा देने के लिए रिलायंस बीपी मोबिलिटी लिमिटेड स्विगी ने साझेदारी की है. करार के तहत पहले बैटरी से चलने वाले वाहनों को फूड डिलिवरी नेटवर्क में प्रोत्‍साहित किया जाएगा. इसमें इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर्स भी शामिल हैं. इसे जियो बीपी नेटवर्क का बैटरी स्वैप स्टेशन स्विगी के डिलिवरी पार्टनर्स का नेटवर्क भी सपोर्ट करेगा. आरबीएमएल स्विगी की मदद से कई जगह जियो-बीपी बैटरी स्वैपिंग स्टेशन लगाएगा. साथ ही स्विगी डिलिवरी पार्टनर्स कर्मचारियों को जरूरी तकनीकी सहायता व प्रशिक्षण उपलब्‍ध कराएगा.
आरबीएमएल देश भर में बैटरी स्वैपिंग स्टेशनों का सबसे बड़ा नेटवर्क स्थापित कर रहा है.

हाई-परफॉर्मेंस बैटरियों के आने से ग्राहकों को बेहतर ऑन-रोड रेंज स्वैपिंग में कम समय लगता है. बैटरी स्वैपिंग दो तिपहिया वाहनों के लिए शानदार विकल्‍प बनकर उभर रहा है. जियो बीपी अगले 5 साल के भीतर हजारों बैटरी स्वैप स्टेशंस स्थापित करेगी. ये स्‍वैपिंग स्‍टेशंस कंपनी के रिटेल आउटलेट्स पर तैयार किए जाएंगे. कंपनी कमर्शियल कॉम्प्लेक्स, मॉल्‍स, होटल, बिजनेस पार्क, आईटी हब पार्किंग लॉट समेत कई जगहों पर रिटेल आउटलेट्स खोलेगी.

रिलायंस बीपी मोबिलिटी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हरीश सी. मेहता ने कहा कि कंपनी केंद्र सरकार के इलेक्ट्रिक मोबिलिटी के लक्ष्‍य को मजबूती देने के लिए ई-मोबिलिटी सर्विसेस में उतर रही है. उन्‍होंने कहा कि कंपनी इसका एक मजबूत इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर तैयार कर रही है. इसमें ईवी चार्जिंग हब बैटरी स्वैपिंग स्टेशन शामिल हैं. ये सभी स्टेकहोल्डर्स को डिजिटल सर्विसेस उपलब्‍ध कराते हैं. आरबीएमएल स्विगी की साझेदारी से ई-मोबिलिटी को ज्‍यादा मजबूती मिलेगी. इससे पर्यावरण को तो फायदा होगा ही, साथ ही डिलिवरी की लगात भी कम होगी. हम भरोसा है कि जियो मोबिलिटी के बैटरी स्‍वैपिंग स्‍टेशंस से स्विगी को बड़ा फायदा मिलेगा.

स्विगी के चीफ एग्जीक्यूटिव श्रीहर्ष मजेती (Sriharsha Majety) ने कहा कि कंपनी की फ्लीट महीने में कई लाख ऑर्डर डिलिवर करती है. हमारे पार्टनर्स हर दिन औसतन 100 किमी तक ट्रैवल करते हैं. ऐसे में पार्टनर्स के साथ हमारे लिए भी ये फायदेमंद साबित होगा. वहीं, पर्यावरण के लिहाज से भी इलेक्ट्रिक व्‍हीकल्‍स का ज्‍यादा से ज्‍यादा इस्‍तेमाल फायदेमंद रहेगा. उन्‍होंने कहा कि किसी भी कारोबार की वृद्धि के साथ सभी पक्षों को फायदा मिलना चाहिए. साथ ही किसी भी बिजनेस की वजह से समाज का कल्‍याण होना चाहिए पर्यावरण पर कम से कम बुरा असर पड़ना चाहिए.

Related Posts

Header

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X