प्रदेश की कानून व्यवस्था को ठेंगा दिखाते हुए फिरौती की रकम न मिलने पर बदमाशों ने की अधिवक्ता के बेटे की निर्मम हत्या

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

बाराबंकी, जिले के थाना कोतवाली क्षेत्र के ग्राम फतेहाबाद में अपहृत एक अधिवक्ता के 18 वर्षीय पुत्र की कथित तौर पर फिरौती की रकम न देने पर हत्या कर दी गई।

पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। पुलिस ने बताया कि कोतवाली नगर क्षेत्र निवासी बीएल गौतम पूर्व शासकीय अधिवक्ता हैं जिनका पुत्र आशुतोष गौतम उर्फ सूरज स्नातक का छात्र था। बृहस्पतिवार से ही आशुतोष गायब था और उसका मोबाइल फोन बंद था। आशुतोष के बड़े भाई ने शाम 7:30 बजे फिर से उसके नंबर पर फोन किया तो फोन उठाने वाले युवक ने खुद को रफीक बताया और सूरज को छोड़ने के एवज में फिरौती के रूप में 50 लाख रुपये मांगे।

रफीक ने धमकी दी कि रुपये न मिलने पर वह आशुतोष की हत्या कर देगा और रात 9:30 बजे वह बताएगा कि रुपये लेकर कहां आना है। आशुतोष के अपहरण और फिरौती मांगे जाने की सूचना पर अधिवक्ता बीएल गौतम कोतवाली पहुंचे और उन्होंने अपने पुत्र के अपहरण और फिरौती मांगे जाने की प्राथमिकी दर्ज कराई। पुलिस अधीक्षक ने कई टीमें युवक की तलाश में लगाई। पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने शुक्रवार को बताया कि सर्विलांस टीम ने युवक के मोबाइल की लोकेशन का पता लगाया, तो पता चला उसका मोबाइल लखपेड़ाबाग मोहल्ले में बंद हुआ था। नगर कोतवाली पुलिस ने छापेमारी करते हुए करीब दो दर्जन युवकों से पूछताछ की और इसी दौरान बहराइच निवासी 26 वर्षीय नागेंद्र और बलिया निवासी 27 वर्षीय सतेंद्र को संदेह के आधार पर पकड़ा गया।

पुलिस ने इनसे कड़ाई से पूछताछ की तो उन्होंने पूरी सच्चाई उगल दी। पुलिस के अनुसार पकड़े गए आरोपी नागेंद्र और सत्येंद्र ने पुलिस को बताया कि बृहस्पतिवार की शाम को सूरज उनके साथ मौजूद था, उन लोगों ने शराब पी और खाना खाया। इसी दौरान उन दोनों ने सूरज से अपने पिता से कुछ रुपये मांगने के लिए कहा लेकिन उसने मना कर दिया। पुलिस ने बताया कि आरोपियों के अनुसार इस पर उन्होंने तवे से उसके सिर पर वार कर दिया, जिससे वह गिर पड़ा और इसके बाद दोनों ने गला दबाकर सूरज की हत्या कर दी और शव को एक कॉलेज के पीछे नाले के पास गड्ढा खोदकर दबा दिया। शुक्रवार सुबह पुलिस ने घटनास्थल पहुंचकर शव को बरामद कर लिया और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पूछताछ में पता चला कि सत्येंद्र की बहन की शादी फतेहाबाद में हुई है, जिससे उसका वहां पर आना जाना था।

Related Posts

Header

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X