सोनिया गांधी और ममता बनर्जी में एक बार फिर होगी मुलाकात, बनेंगे सियासी समीकरण

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

नई दिल्ली, देश की राष्ट्रीय राजनीति में विपक्षी गठजोड़ की चर्चा एक बार फिर जोर पकड़ रही है. इसकी कोशिशें भी लगातार देखी जा रही हैं. इस बीच कांग्रेस की अंतरिम राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ने विपक्ष के नेताओं की जो बैठक बुलाई है, उसमें तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ममता बनर्जी भी शामिल होने जा रही हैं।

सोनिया गांधी ने विपक्ष के नेताओं की ये बैठक 20 अगस्त को बुलाई है. इससे पहले जुलाई के आखिर में अपने दिल्ली प्रवास के दौरान ममता बनर्जी ने सोनिया गांधी से मुलाकात की थी. सोनिया गांधी के आवास पर हुई इस मुलाकात में राहुल गांधी भी मौजूद थे।

 

मीटिंग के बाद ममता बनर्जी ने बताया था कि सोनिया जी ने चाय पर बुलाया था, राहुल जी भी वहां थे। हमने पेगासस और कोविड पर चर्चा की. साथ ही विपक्ष की एकता पर भी चर्चा की गई और बहुत अच्छी मीटिंग रही. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोनिया से मुलाकात के बाद ये भी कहा था कि बीजेपी को हराने के लिए विपक्ष को साथ आना पड़ेगा।

 

हाल के दिनों में कई ऐसे मौके आए हैं जब विपक्ष एकसाथ खड़ा दिखाई दिया है. खासकर, संसद के पूरे मॉनसून सत्र में विपक्षी खेमा जिस तरह एक सुर में सरकार के खिलाफ आवाज उठाता रहा वो अप्रत्याशित था. पेगासस जासूसी विवाद से लेकर किसानों के मुद्दे तक, पूरा विपक्ष संसद के दोनों सदनों में एक साथ खड़ा दिखाई दिया. जब बात ओबीसी आरक्षण संशोधन बिल की आई तो पूरे विपक्ष ने एकसाथ मिलकर इस बिल पर सरकार का साथ भी दिया।

इतना ही नहीं, सदन के बाहर भी ये यूनिटि नजर आई. राहुल गांधी ने जब कॉन्सटीट्यूशन क्लब में विपक्षी नेताओं को नाश्ते पर बुलाया तो आम आदमी पार्टी को छोड़ लगभग सभी प्रमुख विपक्षी दल के नेता वहां पहुंचे. चाय के बाद कई सांसद राहुल गांधी के संसद तक साइकिल कूच में भी शामिल हुए।

 

हालांकि, बार-बार चर्चा इस बात भी होती रहती है कि विपक्ष का चेहरा कौन होगा, 2024 में विपक्ष को कौन लीड करेगा. बंगाल विधानसभा चुनाव की बंपर जीत के बाद ममता बनर्जी का नाम प्रमुखता से इस फेहरिस्त में आ रहा है. हालांकि, वो ये भी कह चुकी हैं अगर कोई और चेहरा होता है तो उन्हें इसमें समस्या नहीं है।

ममता की चुनावी रणनीति बनाने वाले प्रशांत किशोर अब दिल्ली में नेताओं से चर्चा कर रहे हैं. एनसीपी चीफ शरद पवार से भी वो कई मुलाकात कर चुके हैं. राहुल से भी उनकी मीटिंग हुई है. ऐसे में विपक्षी एकजुटता को लेकर तमात तरह के कयास लगातार लगाए जा रहे हैं. इस बीच, सोनिया गांधी ने विपक्ष की जो बैठक बुलाई है उससे क्या कुछ निकलकर आता है ये बेहद अहम होगा।

Related Posts

Header

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X