लेवाना अग्निकांड में मारे गए गुरनूर आनंद और साहिबा कौर के शवों को पुलिस ने कब्ज़े में लेकर भेजा पोस्टमार्टम के लिए

खनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ में सोमवार को लेवाना होटल (Levana Hotel) में भीषण आग लग गई थी। इस हादसे में अब तक 4 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 9 घायल लोगों का इलाज सिविल अस्पताल के बर्न यूनिट में चल रहा है।

हादसे के बाद सबसे पहले मिले दो शव लखनऊ के गुरनूर आनंद और साहिबा कौर के थे। दोनों मंगेतर बताए जा रहे है। वो गणेशगंज के सराय फाटक के पास रहते थे। बताया जा रहा है कि अभी हाल में दोनों की शादी तय हुई थी। पारिजनों ने बताया होटल में पार्टी चल रही थी, जहां ये दोनों लोग शामिल होने गए थे। मौत के बाद मृतकों के घर में कोहराम मचा हुआ है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोर्टमार्टम के लिए केजीएमयू भेजा है।

लखनऊ के होटल में आग लगने की घटना में घायलों से मिलने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी (सिविल) अस्पताल (Dr. Shyama Prasad Mukherjee (Civil) Hospital) में भेंट कर उनका कुशल-क्षेम जाना । उनके समुचित उपचार हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया। मंडलायुक्त (Divisional Commissioner) और पुलिस कमिश्नर, लखनऊ (Lucknow Commissioner) को घटना के कारणों की जांच के निर्देश दिए हैं।
जानकारी के अनुसार, सोमवार की सुबह करीब साढ़े सात बजे हजरतगंज के सुल्तानगंज इलाके में स्थित लिवाना होटल में भीषण आग लगी है। आग में झुलसे लोगों को सिविल अस्पताल (Civil Hospital) भेजा गया है। अभी तक होटल के अंदर से 20 से ज्यादा लोगों को निकाला गया है। कुछ लोगों को बचाने का प्रयास किया जा रहा है।

बताया जा रहा है कि धुएं में दम घुटने से कई लोग बेहोश हो गए हैं। उन्हें अस्पताल ले जाया गया है। दमकल कर्मी भी बेहोश हो गया है। अब तक करीब 20 लोगों को अस्पताल ले जाया गया है। दो लोगों ने दम तोड़ दिया है। मौके 15 गाड़िया पहुंच चुकी हैं। तीसरी मंजिल की आग पर काबू पाने का प्रयास किया जा रहा है। मौके पर करीब छह एम्बुलेंस और पहुंच गई हैं। रास्ते को बंद कर दिया गया है।

आग पर काबू पाने के लिए बुलडोजर से दीवार तोड़ी गई। जिलाधिकारी सूर्यपाल गंगवार (District Magistrate Suryapal Gangwar) ने बताया कि होटल में कुल 30 कमरे हैं, इनमें से 18 कमरों में लोग थे। 30 से 35 लोग कमरों में मौजूद थे। पहली मंजिल पर बैंक्वट हॉल है। यहां कई लोग थे। कई लोग सुबह होटल से निकल गए थे।

लखनऊ कमिश्नर एस बी शिरोड़कर (Lucknow Commissioner S B Shirodkar) ने बताया कि होटल प्रबंधन के रिकॉर्ड के अनुसार 38 से 40 लोग वहां पर रुके हुए थे जिसमें से पुलिस विभाग के अनुसार 10 लोगों को अस्पताल पहुंचाया गया है। जिसमें से दो लोगों की दुखद मौत हो गई जबकि सात लोग अभी अस्पताल में भर्ती हैं। एक व्यक्ति को डिस्चार्ज किया गया है। होटल के कमरों में धुआं ज्यादा होने के कारण अभी तक कितने लोग अंदर फंसे हैं। इसकी जानकारी नहीं हो पा रही है। पुलिस कमिश्नर (Lucknow Commissioner) व मंडलायुक्त (Divisional Commissioner) को जांच के निर्देश दिए गए हैं। जांच के उपरांत कार्रवाई की जाएगी।

Related Posts

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X