लखीमपुर की घटना ने लिया रौद्र रूप, सीएम योगी ने किए अपने सभी कार्यक्रम रद्द, पूरे प्रदेश में हाई अलर्ट

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

लखनऊ , लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा को लेकर पूरे प्रदेश में अलर्ट जारी किया गया है.इसके अलावा, लखीमपुर से सटे सभी जिलों को भी हाई अलर्ट पर रखा गया है.

लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के विरोध में पीलीभीत के किसानों ने हाईवे को जाम कर दिया. उन्होंने किसानों की मौत पर नाराजगी जतायी।

सीएम योगी ने गोरखपुर में अपने सारे कार्यक्रम रद्द कर लखनऊ लौट आए हैं. यहां वे अफसरों संग लखीमपुर हिंसा को लेकर बैठक करेंगे.

पूर्व मंत्री राजेंद्र चौधरी ने कहा है कि योगी सरकार में कोई दिन ऐसा नहीं गुजरा है, जब निर्दोष की हत्या नहीं हुई हो. विरोध कर रहे किसानों को रौंद दिया गया. किसानों को गृह राज्यमंत्री के बेटे ने कुचला है।

लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में हुए बवाल पर आरएलडी अध्यक्ष जयंत चौधरी का बयान भी सामने आया. उन्होंने कहा कि लखीमपुर के तिकुनिया से दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है. आंदोलनकारी किसानों पर गाड़ी चढ़ाई गई. घटना में कई किसानों की मौत हुई है और कई घायल हो गए हैं. यह विरोध को कुचलने का काला कृत्य किया जा रहा है।

आईजी रेंज लक्ष्मी सिंह भी घटना स्थल पर पहुंच गई हैं. बताया जा रहा है कि लखीमपुर खीरी में डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के कार्यक्रम से पहले बवाल हो गया. काले झंडे दिखाने के लिए जमा हुए किसानों से पुलिस और भाजपा कार्यकर्ताओं की झड़प हुई. आरोप है कि इसी दौरान भाजपा नेताओं की गाड़ियों से कुछ किसान कुचले गए, जिसमें दो की मौत हो गई जबकि कई घायल हो गए. इससे आक्रोशित किसानों ने कई गाड़ियों में आग लगा दी और भाजपा नेताओं को भी जमकर पीटा. भारतीय किसान यूनियन ने ट्वीट कर गाड़ी से रौंदने के कारण तीन किसानों की मौत होने की बात कही है।

यूपी कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने भी बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा,मासूम किसानों पर गोलियां तक चलाई गईं. उन्हें गाड़ी से कुचल दिया गया. दो किसानों की मौत हो गई है. यह घटना दुखद और शर्मनाक करने वाली है. अराजकता और गुंडई के दम पर बीजेपी विरोध को दबाकर सूबे में हिटलरशाही चला रही है।

सपा प्रमुख अखिलेश यादव भी लखीमपुर खीरी के लिए सोमवार को रवाना होंगे. यहां वे किसानों से मुलाकात करेंगे।

 

सपा का प्रतिनिधिमंडल कल यानी सोमवार को लखीमपुर खीरी जाएगा. यहां प्रतिनिधिमंडल किसानों से मुलाकात और घटना की जांच करेगा. सुबह 9 बजे सपा नेता लखीमपुर के लिए रवाना होंगे।

 

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट करके उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार को घेरा और अपनी नाराजगी जाहिर की. उन्होंने कहा, जो इस अमानवीय नरसंहार को देखकर भी चुप है, वो पहले ही मर चुका है. लेकिन हम इस बलिदान को बेकार नहीं होने देंगे- किसान सत्याग्रह ज़िंदाबाद!

तिकुनिया में हंगामा के बीच विपक्षी दलों ने योगी आदित्यनाथ सरकार पर हमला बोला है. कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी के सोमवार को तिकुनिया आने की संभावना जतायी जा रही है. वहीं, ट्वीट करके लिखा- भाजपा देश के किसानों से कितनी नफ़रत करती है? उन्हें जीने का हक नहीं है? यदि वे आवाज उठाएंगे तो उन्हें गोली मार दोगे, गाड़ी चढ़ाकर रौंद दोगे? बहुत हो चुका. ये किसानों का देश है, भाजपा की क्रूर विचारधारा की जागीर नहीं है. किसान सत्याग्रह मजबूत होगा और किसान की आवाज और बुलंद होगी.

 

लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में बवाल के बाद आनन-फानन में एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार को लखीमपुर खीरी भेजा गया. वहीं, आईजी रेंज लक्ष्मी सिंह को भी भेजे जाने की खबर सामने आई. बताया जाता है कि हालात को देखते हुए तिकुनिया में आसपास के थानों की फोर्स तैनात की गई है. भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत भी गाजीपुर बॉर्डर से घटनास्थल के लिए रवाना हो गए हैं.

 

यूपी के लखीमपुर जिले में हुए हिंसा के बाद सीएम योगी ने अपने सारे कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं. वे अब लखनऊ लौट आए हैं।

यह है मामला

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य कुछ परियोजनाओं का लोकार्पण करने के लिए केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र के पैतृक गांव बनबीरपुर जाने वाले थे. डिप्टी सीएम के कार्यक्रम की जानकारी मिलते ही किसान काले झंडे लेकर जमा हो गए. डिप्टी सीएम के पहुंचने के पहले ही किसानों और बीजेपी नेताओं के बीच बवाल हो गया. बीजेपी नेताओं ने किसानों पर गाड़ी चढ़ा दी. किसान यूनियन ने गृह राज्यमंत्री के बेटे पर गाड़ी चढ़ाने का आरोप लगाया है।

Related Posts

Header

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X