पत्नी को कान पर चिल्लाना पड़ा भारी, पति ने हत्या कर लाश को जहाज़ से समुद्र में फेंका

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp

वॉशिंगटन, अमेरिका के एक पूर्व प्लास्टिक सर्जन को साल 1985 में अपनी पत्नी की हत्या का दोषी ठहराया गया है. कोर्ट के सामने रॉबर्ट बिरेनबाम ने कबूल किया कि उन्होंने ही अपनी पत्नी की हत्या।

उन्होंने हत्या क्यों और कैसे की यह उससे भी ज्यादा चौंकाने वाला है. बिरेनबाम ने कोर्ट को बताया, ‘घटना के दिन पत्नी गेल काट्ज मेरे कान के पास जोर-जोर से चिल्ला रही थी. मुझे गुस्सा आ गया. मैंने गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी. फिर लाश को चलती फ्लाइट से समंदर में फेंक दिया।

AbcNews की एक रिपोर्ट के मुताबिक रॉबर्ट बिरेनबाम ने कहा, ‘मैं उसे चुप कराना चाहता था. मैं चाहता था कि वो मुझपर चिल्लाना बंद कर दे और मैंने उसपर अटैक कर दिया. वो बेहोश हो गई. इसके बाद मैं उसकी बॉडी को हवाई जहाज से समुद्र के ऊपर ले गया. जहाज का दरवाजा खोला और शव को फेंक दिया.’ पूर्व प्लास्टिक सर्जन अनुभवी पायलट भी था।

बिरेनबाम ने कोर्ट से कहा कि उस समय वह मेच्योर नहीं था और उसे पता नहीं था कि अपने गुस्से पर काबू कैसे पाया जाए।

 

रॉबर्ट बिरेनबाम को दोषी ठहराते हुए मैनहट्टन के एक पूर्व सहायक जिला अटॉर्नी डैन बिब ने कहा कि खुद को डॉक्टर कहने वाला ये आदमी एक मनोरोगी था. रॉबट के इस कबूलनामे ने इस केस से जुड़े हर एक शख्स को चौंका दिया है, क्योंकि यही थ्योरी अभियोजन पक्ष के वकीलों ने साल 2000 में कोर्ट के सामने पेश किया था।

 

रॉबर्ट और गेल को जानने वाले एक व्यक्ति ने कहा कि कभी नहीं सोचा था कि डॉ. बिरेनबाम का नाम एक हत्यारे के रूप में बताना होगा. जानकारी के मुताबिक, रॉबर्ट बिरेनबाम और गेल 1980 के दशक की शुरुआत में मिले थे. गेल की बहन का कहना है कि बिरेनबाम ने शादी से पहले ही अपनी हिंसक प्रवृत्ति दिखानी शुरू कर दी थी. उसने एक बार अपने घर के टॉयलेट में गेल की बिल्ली को डुबोकर मारने की कोशिश की थी।

Related Posts

Header

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X