पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान पर हमले से पाकिस्तान में अफरा तफरी का माहौल, PTI के कार्यकर्ताओं ने किया ज़ोरदार प्रदर्शन

इस्लामाबाद, पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) पर हमले के बाद अब उनकी पार्टी के समर्थकों ने पेशावर कोर कमांडर के घर के सामने प्रदर्शन किया है. पाकिस्तानी अखबार डॉन की खबर के मुताबिक, पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) पार्टी के कार्यकर्ता पेशावर कोर कमांडर सरदार हसन अजहर हयात के घर के सामने इकट्ठा हुए थे और उन्होंने नारे भी लगाए. हालांकि, बाद में भीड़ मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर मुड़ गई और फिर तितर-बितर हो गई.

PTI समर्थकों ने पाकिस्तान के गृह मंत्री राणा सनाउल्लाह के खिलाफ भी रावलपिंडी में प्रदर्शन किया. इसके चलते पाकिस्तान के कई शहरों में जाम लग चुका है और यातायात बाधित हुआ है.

वहीं सनाउल्लाह ने कहा कि केंद्र सरकार ने निर्णय लिया है कि पंजाब सरकार एक संयुक्त जांच समिति का गठन करके मामले की जांच करेगी. सूचना मंत्री मरियम औरंगजेब के साथ की गई एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में सनाउल्लाह ने कहा कि पूरी सरकार ने इस घटना की निंदा की है.

केंद्र के निर्देश पर पंजाब के मुख्यमंत्री परवेज इलाही ने पुलिस को निर्देश दिया कि संयुक्त जांच समिति (JIT) का गठन करके मामले की जांच करें. घटना के कारणों की जांच के लिए आतंकवाद निरोधी विभाग के अधिकारियों को टीम में रखा जाएगा. डॉन के मुताबिक इलाही ने कहा,

हम ये जानना चाहते हैं कि इस घटना के पीछे कौन है, जिसने आरोपी को ट्रेनिंग दी. हमलावर को कितने रुपये मिले थे और उसे कहां से ये पैसे मिले.’

हमले में एक की मौत

इससे पहले पाकिस्तान के वजीराबाद में अल्लाह वाला चौक पर इमरान खान के काफिले पर हुए हमले में एक पार्टी कार्यकर्ता की मौत हो गई और कुल सात लोग घायल हैं. मृतक व्यक्ति का नाम मुअज्जम नवाज है. रिपोर्ट के मुताबिक इमरान खान के दाहिने पैर में गोली का छर्रा मिला है.

 

इधर इमरान खान पर हमला करने के आरोप में गिरफ्तार फैसल भट्ट नामक शख्स का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वह हमले का कारण बताता दिख रहा है. कथित आरोपी को वीडियो में यह कहते सुना जा सकता है,

‘मैने ये इसलिए किया क्योंकि इमरान खान लोगों को गुमराह कर रहे थे और मुझसे ये चीजें देखी नहीं गईं. इसलिए मैंने उनको मारने की कोशिश की. मैंने सिर्फ इमरान खान को मारने की पूरी कोशिश की. और किसी को मारना नहीं चाहता था.’

व्यक्ति ने आगे कहा,

‘उधर अजान हो रही होती थी, इधर ये लोग डैक (ऑडियो सिस्टम) लगाकर शोर करते थे. जिस चीज को मैंने अच्छा नहीं माना. जिस दिन ये लाहौर से चले थे, उस दिन मैंने इस साजिश के बारे में सोचा कि मुझे इन्हें अब छोड़ना नहीं है. इस साजिश में मेरे पीछे कोई नहीं है. मैं अकेला ही इसमें शामिल हूं. मैं घर से अकेला ही अपनी बाइक पर आया था. बाइक मैंने अपने मामू की दुकान पर खड़ी कर दी थी. मेरे मामू की मोटरसाइकल की दुकान है.’

Related Posts

Cricket

Panchang

Gold Price


Live Gold Price by Goldbroker.com

Silver Price


Live Silver Price by Goldbroker.com

मार्किट लाइव

hi Hindi
X